साईं बाबा का जन्म स्थान पाथरी या शिर्डी, विवाद के बाद शिर्डी में रविवार से बेमियादी हड़ताल,दर्शन होते रहेंगे

शिर्डी, शिर्डी के साईं बाबा के जन्म स्थान को लेकर एक नया विवाद शुरू हो गया है| इस विवाद के चलते शिर्डी और आसपास के 25 गांव के लोगों ने बेमियादी हड़ताल करने की घोषणा की है| रविवार से शिर्डी के सभी होटल दुकाने एवं व्यापारिक संस्थान बंद रहेंगे। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने परभणी जिले के पाथरी गांव में साईं बाबा के जन्म स्थल को विकसित करने के लिए 100 करोड़ रुपए की सरकारी सहायता देने का ऐलान किया है। इसके बाद से ही विवाद बढ़ गया है। बंद का ऐलान करने वाले लोगों का कहना है कि अभी तक साईं बाबा के जन्म स्थान को लेकर कोई विवाद नहीं था। यह माना जाता था साईं बाबा का जन्म और समाधि दोनों ही शिर्डी में हुई है। परभणी के दो पूर्व ट्रस्टीयों ने पाथरी गांव में साईं बाबा के जन्म स्थल को बताकर वहां पर नया मंदिर बनाने की तैयारी की जा रही है।इसका विरोध शिरडी सहित 25 गांव के लोगों द्वारा किया जा रहा है।
आंदोलनकारियों का कहना है रविवार से बेमियादी हड़ताल शुरू होगी भक्तों के लिए मंदिर जरूर खुला रहेगा, किंतु शिर्डी के सभी होटल रेस्टोरेंट और दुकाने बन्द रहेंगी।शिर्डी के ऑटो जीप और अन्य बाहन भी बंद रहेंगे। बाहर से आने वाले श्रद्धालु जो अपने वाहन से अथवा पैदल आएंगे ल। वह साईं बाबा के दर्शन कर सकेंगे। हड़ताल के कारण अन्य लोगों का दर्शन कर पाना संभव नहीं होगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *