शिक्षा परिसर से

केवि एक भोपाल की शानदार उपलब्धि
भोपाल,24 ओर 25 अक्टूबर को के.वि. क्र.2 भोपाल में आयोजित जिला स्तरीय राष्ट्रीय बाल विज्ञान कोंग्रेस-2017 में के.वि. क्र.1 भोपाल से चार समूह ने बाजी मारी । भोपाल संभाग से कुल 18 परियोजनाओं का के.वि.संगठन के राष्ट्रीय प्रतियोगिता में जाना निर्धारित है।
ये प्रतियोगिता अब देहरादून में 24 और 25 नवम्बर में होने जा रही है। के.वि. क्र.1 भोपाल से भाग लेने वाले हैं कु. पुनिता चैहान (कक्षाग्यारवीं) , कु. श्रद्वा रेडडी (कक्षा दसवीं) ,मास्टर. अमन गौर (कक्षा दसवीं) ,कु. संस्कृति उवाडे (कक्षा सातवीं) , इनमें से 3 परियोजनाओं की मार्गदर्षक श्रीमती मीता चैरसिया (पी.जी. टी. भौतिक शास्त्र) एवं एक परियोजना की मार्गदर्षक श्रीमती शकुन रधुवंसी (टी.जी.टी. विज्ञान) हैं। प्राचार्य श्रीमान सौरभ जेटली ने इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

प्रमोद कुमार तकनीकी अधिकारी बने
वर्ल्ड बाउल्स एवं बोलिंग फेडरेशन आफ इंडिया द्वारा मध्य प्रदेश के भोपाल निबासी ऍम प्रमोद कुमार एवं अमित जैन को लॉन बाउल के राष्ट्रीय तकनिकी अधिकारी के रूप में चयनित किया गया है ! मध्य प्रदेश के इतिहास मैं ऍम प्रमोद कुमार एवं अमित जैन प्रथम राष्ट्रीय खिलाडी के साथ साथ प्रथम
राष्ट्रीय तकनिकी अधिकारी होंगे! दोनों अधिकारीयों का चयन अंतर्राष्ट्रीय चयन समिति के सदस्य मि. इयान ऐ मुनरो एवं मि. एलिस्टर जे डगलस के साथ बाउलिंग फेडरेशन ऑफ़ इंडिया की अध्यक्ष सुश्री सुनैना कुमारी द्वारा किया गया है!
इस उपलब्धि पर मध्य प्रदेश बाउलिंग एसोसिएशन के सचिब द्वारा दोनो अधिकारियो को बधाई दी है.इस अवसर पर फादर मेल्विन सीजे प्रिंसिपल, सेंट जेवियर्स सीनियर भोपाल ने अपने स्कूल के प्रमोद कुमार (पी.टी.आई.) को शुभकामनाएं दी हैं।

सेंट जेवियर्स में शिक्षक-सम्मान
उत्साह, विनम्रता, कृतज्ञता और आनंदानुभूति के साथ सेंट जेवियर्स के प्रांगण में शिक्षक-दिवस का पारंपरिकआयोजन हुआ। कार्यक्रम का आरंभ भगवद्स्तुति व नृत्य से हुआ। तत्पश्चात् डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को
स्मरण करने के पश्चात् स्कूल केबिनेट और नन्हें-मुन्ने छात्रों ने नृत्य-गीत और नाटक की शानदार प्रस्तुति देते हुए
सिद्ध किया कि जीवन में शिक्षक का महत्व अतुलनीय है, उनकी प्रस्तुति वाकई सरहानीय और काबिल-ए- तारीफ़
रही । इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य फ़ॉदर मेलविन सीजे ने कार्यक्रम की प्रंशसा करते हुए जीवन में शिक्षक
के महत्व को उद्बोधित किया। कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ शिक्षकों का सम्मान किया गया।

विदेशी प्रोफेसर्स करेंगे सांची विश्वविद्यालय में अध्यापन
सांची बौद्ध-भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में छात्रों को कई देशों में पढ़ा चुके प्रोफेसर्स से पढ़ने का मौका मिलेगा। विश्वविद्यालय की अंतर्राष्ट्रीय छवि के अनुरूप सांची विश्वविद्यालय की विद्या परिषद ने इन प्रोफेसरों के सांची विश्वविद्यालय को अपनी सेवाएं देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। सांची विश्वविद्यालय को बौद्ध अध्ययन पाठ्यक्रम के लिए थाइलैंड विश्वविद्यालय के श्री डियोन ओलिवर पीपुल्स तथा सामरिक अध्ययन (Strategic Studies) के लिए अमेरिका समेत कई विश्वविद्यालयों में पढ़ा चुके डॉ देबीदत्ता ओरबिंदो मोहपात्रा की सेवाएं मिलेगी।
भारतीय दर्शन, योग एवं अंग्रेज़ी भाषा के पाठ्यक्रमों के लिए भी प्रोफेसर स्तर के रिटायर्ड प्राध्यापकों की सेवाएं आमंत्रण आधार पर लेने को भी विद्या परिषद द्वारा मंज़ूरी दी गई। भारतीय दर्शन के लिए चेन्नई विश्वविद्यालय के रिटायर्ड प्रोफेसर जी मिश्रा, योग के लिए बैंगलोर योग विश्वविद्यालय के प्रो. एम. के श्रीधर तथा अंग्रेज़ी के लिए ग्वालियर विश्वविद्यालय के प्रो. ओपी बुधोलिया एवं डॉ अमितोष सिंह की सेवाएं ली जाएंगी। बौद्ध अध्ययन के लिए श्री डियोन ओलिवर पीपुल्स की सेवाएं 2017-18 यानी इसी सत्र में उपलब्ध होंगी।

केवी 1 में प्राचार्य जेटली ने किया झंडावंदन
71 वे स्वतन्त्रता दिवस के अवसर पर केन्द्रीय विद्यालय क्र.1 भोपाल के प्राचार्य एवं मुख्य अतिथि सौरभ जेटली ने ध्वजारोहण एवं राष्ट्रगान के साथ झंडे को
सलामी दी । तत्पश्चात झंडागीत विजयीविश्व तिरंगा प्यारा ….. के साथ देश के प्रति सम्मान को अभिव्यक्त किया गया । इसके उपरांत विद्यालय की उप-प्राचार्या श्रीमती सुजाना कुजूर ने मुख्य अतिथि का स्वागत पादप प्रदान करके किया। स्वतन्त्रता दिवस की इस शुभ वेला में विद्यालय के प्राथमिक विभाग के छात्रों ने समूह-गान एवं माध्यमिक तथा उच्चतर-माध्यमिक कक्षाओं के छात्रों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रंगारंग प्रस्तुति की गई जिसमें विभिन्न सदनों के छात्र-छात्राओं ने वाद्ययंत्रों द्वारा मनमोहक प्रस्तुति दी तथा वन्देमातरम प्रस्तुत राष्ट्रगीत को छात्राओं के समूह द्वारा बड़ी ही रोचकता एवं भावपूर्णता के साथ किया गया । कार्यक्रम के अंत  मुख्य अतिथि सौरभ जेटली द्वारा सभी को संबोधित किया गया जिसमे उन्होने देश के मौजूदा हालातों तथा देश के लिए दी
गई कुर्बानियों को याद कर पुनः सभी को एकता और विकास की रह पर चलने के लिए प्रेरित किया । कार्यक्रम के समापन की औपचारिक घोषणा एवं धन्यवाद-ज्ञापन विद्यालय की उप-प्राचार्या द्वारा किया गया । अंत मे मिष्टान वितरण के साथ यह कार्यक्रम सम्पन्न हुआ ।

  सेंट जेवियर्स में आजादी का जश्न
सेंट जेवियर्स स्कूल के प्रांगण में 71वें स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर अद्भुत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आरंभ मुख्यातिथि टिनी पांडे असिस्टंट डायरेक्टर ,डायरेक्टरेट ऑफ़ वुमन एम्पोबरमेंट,के स्वागत से हुआ। ईश्वरीय वंदना से कार्यक्रम की शुरुआत हुई तत्पश्चात् ध्वजारोहण किया गया और राष्ट्रगान गाकर देश के प्रति अपना आदर-भाव व्यक्त किया।
विद्यार्थियों ने रोचक ढंग से नाटक की प्रस्तुति की जिसके माध्यम से दिखाया गया कि हमारी देश की आजादी में चन्द्रशेखर आजाद,भगतसिंह, सुखदेव, राजगुरु और महात्मा गाँधी का कितना अहम योगदान रहा। तत्पश्चात्भारतमाता को समर्पित हो छात्रों द्वारा देशभक्ति के गीत गाए गये। मुख्यातिथि व प्रिंसीपल फादर मेलविन सी.जे.द्वारा स्कूल के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को जो विभिन्न प्रतियोगिताओं में भागग्रहण करके विद्यालय और
राज्य स्तरीय पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं उन सबको सम्मानित किया गया। मुख्यातिथि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि हमें स्वंतत्रता मिली है अतः हमें अपने को स्वतंत्र महसूस करना चाहिए न कि स्वच्छंद। माता-पिता और गुरुजनों का आदर-सम्मान करना चाहिए।                  

                                                                                  साँची विवि में मनाया गया स्वतंत्रता दिवस समारोह
साँची बौद्ध-भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर यज्ञेश्वर एस. शास्त्री ने झण्डावंदन किया। इसके बाद उन्होने छात्रों का आव्हान किया कि आजादी के 70वें वर्ष में युवाओं के सामने अवसरों की कमी नहीं है. बस जरूरत है चुनौतियों का डटकर सामना करने की। उन्होने कहा कि आजादी के लिए देश ने काफी संघर्ष किया है और अब मौका है- भारत के स्वर्णिम इतिहास को दौबारा दोहराया जाये। देश के सामने चीन और कश्मीर की चुनौती का जिक्र करते हुए प्रो. शास्त्री ने कहा कि युवाओं को देश की रक्षा का प्रण लेना चाहिए।
प्रो. शास्त्री ने कहा कि साँची विश्वविद्यालय देश की पुरातन ज्ञान परम्परा को पुनर्जीवित करने के प्रयास में जुटा हुआ है। इस मौके पर प्रो. शास्त्री ने मौजूदा वर्ष के लिए प्रस्तावित विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों पर भी प्रकाश डाला।

सरस्वती विद्या मंदिर के पूर्व छात्रों का मिलन समारोह संपन्न
भोपाल, महापौर आलोक शर्मा के मुख्य आतिथ्य में मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष तपन भौमिक के विशेष आतिथ्य में शिवाजी नगर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर के पूर्व छात्रों का मिलन समारोह सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर महापौर आलोक शर्मा का आयोजकों द्वारा स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। महापौर शर्मा तथा अन्य उपस्थितजन ने समारोह में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनन्द भी लिया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में सरस्वती विद्या मंदिर के पूर्व छात्रों के अलावा विद्यालय के प्राध्यापक व विद्यार्थी एवं गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

सेंट जेवियर्स विद्यालय में छात्र परिषद् का गठन
सेंट जेवियर्स सीनियर सेकेण्डरी को-एड विद्यालय के प्रांगण में नव निर्वाचित छात्र परिषद का अलंकरण एवं शपथ ग्रहण समारोह शुक्रवार को आयोजित किया गया।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दिनेश चंद सागर (आईपीएस) थे ।सुसज्जित बैण्ड ग्रुप छात्रों के द्वारा विशेष अतिथियों का स्वागत अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम का श्रीगणेश दीपप्रज्ज्वलन, ईशवन्दना एवं नृत्य से हुआ। विद्यार्थियों द्वारा मधुर गीतों की प्रस्तुति दी गई। मुख्य अतिथि ने नव निर्वाचित कैबिनेट विद्यार्थियों को बैचेस़ द्वारा सम्मानित करते हुए कामना की- कि वे अपनी जिम्मेदारियों का सफलतापूर्वक निर्वहन करें, तत्पश्चात् कैबिनेट सदस्यों को शपथ दिलाई गई। उन्होंने अपने उद्बोधन में हेलमेट का उपयोग एवं अन्य सुरक्षा नियमों का पालन करने की सलाह देते हुए भविष्य की
ऊन्नति हेतु अभी से तैयारी करने की प्रेरणा प्रदान की। मुख्यातिथि के शिक्षाप्रद शब्दों के बाद नव निर्वाचित हेड बॉय और हेड गर्ल ने सभी स्कूल प्रबंधन एवं अध्यापकों एवं छात्रों का आभार व्यक्त किया । राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। छात्र परिषद् में निर्वाचित सदस्य – हेड वॉय – पी. उदय भास्कर एवं हेड गर्ल – अदिति श्रीवास्तव।

मैनिट के छात्रों ने लो कॉस्ट सोलर थर्मों – मेकैनिकल वाटर पंप ईजाद किया
भोपाल,मैनिट भोपाल के एनर्जी सेंटर में एमटेक फाइनल ईयर स्टूडेंट्स राजकुमार मालवीय और अंकित कुमार शर्मा ने एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर प्रशांत बारेदार के मार्गदर्शन में कार्य करते हुएकिसानों एवं ग्रामीण महिलाओं के लिए सोलर ऊर्जा आधारित लो कॉस्ट सोलर थर्मों – मेकैनिकल वाटर पंप जो कि नवीन डिजाइन एवं मैकेनिज्म द्वारा संचालित होगा, ईजाद किया है इस इरीगेशनपंप में कहीं भी विद्युत का उत्पादन नहीं किया जाता है यह बिना विद्युत उत्पादन किए ही सोलर उर्जा का उपयोग करके सिर्फ मैकेनिज्म द्वारा ही संचालित होता है, जिसका उपयोगकिसान खेतों में पानी देने के लिए और ग्रामीण महिलाएं कुओं से बिना शारीरिक परिश्रम किए पानी भरने हेतु कर सकेंगी. यह इरीगेशन वाटर पंप एकदम नई अत्याधुनिक सोलर तकनीक परआधारित है, इसमें वर्किंग फ्लूइड पानी एवं कॉपर की स्पाइरल क्वाइल उपयोग में लाई गई है. सोलर पैराबोलिक डिश इस कॉपर क्वायल पर सूर्य की उर्जा को कंसंट्रेट करती है, जिससे कि यहक्वाइल लगभग ढाई सौ डिग्री सेंटीग्रेड के तापमान पर गर्म हो जाती है और इस क्वाइल में प्रवाहित हो रहा पानी इस्टीम में बदल जाता है इस टीम को पाइप द्वारा प्रेशर मेजरिंग चेंबर में भेजाजाता है, जहां स्टीम का प्रेशर मापा जाता है.

अल्प अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन
भोपाल, मैनिट भोपाल के एनर्जी सेंटर में मध्य प्रदेश क्लीन डेवलपमेंट मैकेनिज्म एजेंसी द्वारा प्रायोजित क्लाइमेट चेंज,कार्बन सिक्वेष्ट्रेषण और सस्टनेबल एनर्जी सोर्सेस विषय पर साप्ताहिक अल्प अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन हुआ।

ईटली के ईऐनईए से आये कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. विनोद कुमार ने रिन्यूऐबल ऐनर्जी व सस्टेनेबल ऐनर्जी सोर्सेस के महत्व पर प्रकाश डालते हुये भारत, ईटली, डेनमार्क व पूरे विश्व मे इस क्षेत्र मे हुये कार्य के बारे मे बताते हुये भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल की भी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भारत सरकार अब इस क्षेत्र में रियल ग्राउंड पर काम कर रही है. समापर अवसर पर डॉ. विनोद, डॉ. आर. ऐम. सरविया, डॉ. मीना अग्रवाल, डॉ प्रशांत बारेदार व डॉ. विलास वरूडक़र ने प्रतिभागिओं को प्रमाणपत्र वितरित किये.
डॉ आर एम् सरविया (चेयरमैन एनर्जी सेंटर), डॉ के सुधाकर , डॉ प्रशांत बारेदार और डॉ विलाष वारुडक़र इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रमुख संयोजक रहे.

सांची विवि में 60 कलाकार बनाएंगे अध्यात्म को कूची का विषय
भोपाल,कला ना सिर्फ भाव अभिव्यक्ति का साधन है बल्कि पूरे परिवेश का चित्रण कर देती है। फोटोग्राफी और वीडियो के पहले चित्र ही वो साधन थे जो समय को  बांध सकते थे।

अन्तर्मन की गुत्थियों को भी चित्रकारी सुंदरता से उकेर देती है। भारत में चित्रकला मठ और मंदिर से होती हुई अध्यात्म के सहारे खूब फली फूली। भारतीय चित्रकला के इसी सोपान को रेखांकित करता एक प्रयास सांची विश्वविद्यालय में हो रहा है। 28 मार्च से 3 अप्रैल के बीच देशभर से जुटे 60 कलाकार अध्यात्म के विभिन्न पहलुओं को अपनी कूची से आकार देंगे। यानी अध्यात्म पर आधारित चित्रकारी की इस कार्यशाला में प्रो. प्रयाग शुक्ल जैसे कला विदूषक भी कलाकारों की मदद के लिए बतौर विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे।
सांची विश्वविद्यालय की इस कार्यशाला में कलाकार, चेतन और अवचेतन, प्रकृति और परमात्मा, स्वयं की उत्पत्ति, इच्छा के प्रभाव जैसे विषयों को चितेरेंगे।

शारदा विहार के आवासीय विद्यालय के 74 खिलाड़ी होगें सम्मानित
भोपाल,विद्याभारती का खेल प्रतिभा सम्मान समारोह 28 मार्च को मुख्यमंत्री आवास पर प्रात: 10 बजे आयोजित किया जाऐगा। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल जिले के सरस्वती विद्या मंदिर उ.मा आवासीय विद्यालय शारदा विहार के एसजीएफआई द्वारा आयोजित खेलों में विजेता भैया बहिनों को पदक प्रदान कर सम्मानित करेंगे। उल्लेखनीय है कि एसजीएफआई खेलकूद समारोह में 2016-17 के खेलों में मध्यभारत प्रांत के 16 जिलों के 400 भैया-बहिनों ने सहभागिता की थी। इस समारोह मे सरस्वती विद्यामंदिर शारदा विहार भोपाल के 74 भैया-बहिनों पे पदक प्राप्त किए। जिसमें 16 स्वर्ण,12 रजत एवं 26 कास्य पदक भैया-बहिनों ने प्राप्त किए।

विधानसभा का शैक्षणिक दौरा

शासकीय महाविद्यालय नईगढ़ी जिला रीवा के छात्र-छात्राओं ने देवतालाब के विधायक गिरीश गौतम के संग विधानसभा का भ्रमण कर अध्यक्ष सीताशरण शर्मा से भेंट की बाद में छात्रों की उपाध्यक्ष राजेंद्र कुमार सिंह से भी भेंट हुई।

शैक्षणिक भ्रमण

सायना इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल कटनी के छात्रों ने सोमवार को मप्र विधानसभा का भ्रमण किया। उन्होंने विधानसभा का अवलोकन करने के बाद अध्यक्ष सीताशरण शर्मा से भी भेंट की।

राधारमण विहान 2017 में दिखा क्रिएटिविटी का जादू

भोपाल। राधारमण समूह में चल रहे एन्युअल फेस्ट विहान 2017 में आज आर्ट विला, फूड फेस्टीवल तथा बैंड शो का आयोजन किया गया जिसमें प्रतिभागियों की छिपी हुई क्रिएटिविटी जमकर सामने आई।
किताबों में डूबे रहने वाले विद्यार्थियों ने आर्ट एण्ड क्राफ्ट से लेकर म्यूजिक तक शानदार प्रदर्शन कर वाहवाही बटोरी। आज की प्रतियोगिताओं को कार्यक्रम के मुख्य अतिथी एवं सांसद आलोक संजर ने स्वयं देखा व सराहा। उन्होंने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताएं विद्यार्थियों को तनावमुक्त करने के साथ साथ नई उर्जा से भर देती हैं जिसका लाभ उन्हें पढ़ाई लिखाई से लेकर अपने संपूर्ण व्यक्तित्व के विकास में मिलता है। इस अवसर पर राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना सहित मैनेजमेंट टीम के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

आर्ट विला के अंतर्गत मेहंदी, रंगोली, नेल आर्ट, फेस पेंटिंग, पोस्टर मेकिंग तथा बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट का आयोजन किया गया। फूड फेस्टीवल में भाग ले रही टीमों ने स्वादिष्ट डिशेज बनाकर जजों को परोसी तो वहीं बैण्ड शो के तहत प्रतिभागियों ने नए-पुराने फिल्मी व गैर फिल्मी गीतों की स्वरलहरियों से माहौल को सुरमयी बना दिया।

एक कदम स्वच्छता की और

भोपाल,अगर आप अपनी कालोनी,या आस पास आदि में यदि गंदगी देखते है तो उसका फोटो तुरन्त नगर निगम भेज उसकी सफ ाई करवा सकते है। इसके लिए आपको सिर्फ स्वच्छ ऐप एप्लीकेशन अपने मोबाईल में डाउनलोड करना होगा यह समझाईश नगर निगम द्वारा कॅरियर
कालेज एंव कॅरियर कालेज आफ लॉ के विद्यार्थियों और स्टाफ को दी। स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत मेरा प्रंण भोपाल नम्बर वन के तहत चलाई जा रही मुहीम में कॅरियर कालेज के विद्यार्थियों एंव षिक्षको को उनके मोबाईल फ ोन मे ‘स्वच्छ मेप‘ एप्लीकेशन डाउनलोड करया गया। जिसके तहत मात्र कुछ ही सेकेन्ड मे फेली पड़ी गंदगी की फोटो भेज नगर निगम को इसकी जानकारी दे सकते है।

नाटक से दिया सामाजिक संदेश

भोपाल,माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में सोमवार को प्रतिभा-2017 के अंतर्गत गीत-संगीत और नाट्य की प्रतियोगिताएं आयोजित हुई। विद्यार्थियों ने हास्य-व्यंग्य नाटिका, एकल गायन (पाश्चात्य), एकल गायन, समूह गायन और एकल वाद्य की प्रतियोगिताओं में अपनी जोरदार प्रस्तुति से समा बांध दिया। कई प्रस्तुतियों ने निर्णायक और दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

विश्वविद्यालय के वार्षिक सांस्कृतिक एवं खेलकूद आयोजन प्रतिभा में सोमवार को हास्य नाटिका (स्किट) में अगल-अलग विभागों के विद्यार्थियों ने गुदगुदाने वाली प्रस्तुतियां दी। उन्होंने देशप्रेम और नारी सशक्तिकरण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को लघु नाटिकाओं के जरिए प्रस्तुत किया। इसके साथ ही सामाजिक बुराइयों पर भी चोट की। अंधेर नगरी चौपट राजा और बुरा कौन लघु नाट्य के जरिए समाज को आईना दिखाने का प्रयास विद्यार्थियों ने किया।

मानव संग्रहालय में कार्यशाला शुरू

भोपाल,इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में मानव विज्ञान एवं संग्रहालय विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला का उद्घाटन निदेशक,प्रो.सरित कुमार चौधुरी एवं छात्र-छात्राओं के एक-एक प्रतिनिधि ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्जवलित कर किया।
मानव संग्रहालय के निदेशक, प्रो. सरित कुमार चौधुरी ने अपने उत्बोधन में कहा कि जल्द ही हम भारत में एंथ्रोपोलॉजी (मानवविज्ञान)की संस्थागत शिक्षण की शताब्दी मनाने जा रहे हैं। इस विषक का विकास जनजातियों के अधयन्न विषय से हुआ है। समय के साथ इस विषय ने अपने शोध के क्षेत्रों का विस्तार करते हुए तथा समय और स्थान की बाधाओं को तोडक़र मानवजाति के विज्ञान के रूप में उभरा है। मानव विज्ञान के मूल उद्देश्यों की व्याख्या करते हुए उन्होंने कहा कि एक मौलिक सबक जो आप मानव वैज्ञानिकों के रूप में सभी संस्कृतियों को उनके मतभेदों के साथ सम्मान करना सीखेंगे।

सेंट जेवियर ने कहा अलविदा फिर मिलेंगे

सेंट जेवियर स्कूल में कक्षा 12 के छात्रों को भावपूर्ण विदाई दी गई.विदाई कार्यक्रम शानदार ढ़ंग से मनाया गया. कक्षा 12 के छात्र-छात्राओं ने रैम्प वाक किया.कक्षा 11 के छात्रों ने स्कूल जीवन पर आधारित लघु फिल्म की झलक पेश की. कर्यक्रम की थीम परिवार एक साहसी रही.

कार्यक्रम का उद्देश्य अलविदा पर ध्यान केन्द्रित करने के लिए नहीं था, लेकिन एक नई यात्रा की शुरुआत का जश्नमनाने के लिए जरूर था.

एक मधुर गीत प्रार्थना के साथ शुरुआत हुई नृत्य,गीत कमाल के द्वारा पीछा और मनोरंजक खेल, हल्के-फुल्के हास्य परिहास का चित्रण किया गया.
कार्यक्रम के अन्त में फादर मेल्विन सी जे का उदबोधन हुआ उन्होंने बाद में पुरस्कार भी बांटे.

वायु प्रदूषण पर हेल्थ एडवाइजरी जारी हो

नई दिल्ली, सेंटर फॉर एनवायरनमेंट एंड एनर्जी डेवलपमेंट (सीड ) के प्रतिनिधियों तथा वायु प्रदूषण के प्रति जागरूकता अभियान से जुड़े स्टूडेंट वालंटियर्स ने गुरुवार को दिल्ली के स्वास्थय मंत्री सत्येंद्र कुमार जैन से जनता दरबार के दौरान उनके आवास पर मुलाक़ात की.
दिल्ली के विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने उनसे अपील की कि वे दिल्ली के हरेक वार्ड में हेल्थ एडवाइजरी जारी करें. यह बैठक बीते अगस्त, 2016 को हुई मुलाक़ात की अगली कड़ी है, जिसमे इन स्कूली बच्चों और सीड के प्रतिनिधियों ने मंत्री को करीब एक लाख नागरिकों का हस्ताक्षरयुक्त मांगपत्र सौंपा था, जिसमे दिल्ली के लोगों के लिए हेल्थ एडवाइजरी जारी करने की मांग मुख्य तौर पर शामिल थी.
सीड के प्रोग्राम मैनेजर डिंपी सुनेजा ने बताया कि – हेल्थ एडवाइजरी लोगों को अपने इलाके में वायु की गुणवत्ता की वर्तमान स्थिति के बारे में सचेत करेगी और यह लोगों को वायु प्रदूषण के खतरे वाले दिनों में बाहर नहीं निकलने या इससे जुड़ी सावधानियों पर अमल करने में मददगार साबित होगी. लोगों को यह जानना जरुरी है कि वह कैसी हवा में सांस ले रहे हैं और फिर उसी अनुसार वे निर्णय लें. उन्होंने आगे बताया की प्रदूषण के स्तर को रोकने और जहरीली हवा के एक्सपोजऱ से बचने के लिए कई कदम उठाने की जरुरत है. इससे पहला कदम लोगों को निवारक उपायों के प्रति जागरूक करना है, ताकि हेल्थ रिस्क को काम किया जा सके.

भारत रंग-बिरंगा में बच्चों का मनमोहक अंदाज
भोपाल,भात की संस्कृतियों की अनेकता में एकता की मिसाल को आधार बनाकर भारत रंग-बिरंगा का आयोजन किया गया. हयात कॉन्वेंट में आयोजित कार्यक्रम में बच्चों ने दूल्हा-दूल्हन की वेशभूषा पर प्रदर्शन किया। इसमें तीन से 14 वर्ष के बच्चों ने हिस्सा लिया. प्राचार्या शकीला खान और सभी शिक्षकों ने बच्चों की हौसला अफजाई की.
एशियाई फिलोसॉफी कॉन्फ्रेंस का शुभांरभ
भोपाल,मध्य प्रदेश में पहली बार आयोजित एशियाई फिलोसॉफी कॉन्फ्रेंस का शुभांरभ सांची बौद्ध भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में हुआ. म.प्र. के संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा ने कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन करते हुए कहा कि वैदिक एवं बौद्ध परंपराएं एशियाई और विश्व एकता के लिए आदर्श है.
उन्होने कहा कि मौजूदा दौर में भारतीय दर्शन के तत्वों को जन-जन तक पहुंचाने की आवश्यकता है. पटवा ने एशियाई फिलोसॉफिकल कॉन्फ्रेंस से मिलने वाले बिंदुओं को क्रियान्वित कराने में संस्कृति मंत्रालय की मदद का आश्वासन भी दिया.
उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए श्रीलंकाई महाबोधि सोसायटी के बनागला उपतिस्स नायक थैरो ने कहा कि पश्चिमी दर्शन बहस करने की चीज है जबकि पूर्वी दर्शन व्यवहार में उतारने की। थैरो ने कहा कि प्रवासी दिवस की शुरुआत सर्वप्रथम सांची से ही हुई थी और सांची ने ही एशिया को एक नया दर्शन और जीवन व्यवहार दिया। एशियाई फिलोसॉफी कांग्रेस के चेयरमैन प्रो. एस. आर. भट्ट ने उद्घाटन सत्र में कहा कि पश्चिमी दर्शन में बुद्धि पर ज़ोर होता है जबकि पूर्वी दर्शन में बुद्धि के साथ जीवन जीने और जीवनस्तर को ऊंचा उठाने पर खासा ध्यान दिया जाता है. उन्होने कहा कि भारतीय दर्शन विश्वमानव की अवधारणा पर कार्य करता है जो मौजूदा दौर में और भी ज्यादा प्रासंगिक हो गया है. उद्घाटन वक्तव्य देते हुए सांची विवि के कुलपति आचार्य प्रो. यज्ञेश्वर शास्त्री ने कहा कि एशियाई कॉन्फ्रेंस के जरिये सांची विवि दर्शन विश्व को अपनी गंभीरता और दर्शन के प्रति निष्ठा बताना चाहता है. उन्होने कहा कि सांची विवि वैदिक एवं बौद्ध दर्शन के सूत्रों को एकीकृत करने, भारतीय दर्शन को मौजूदा परिप्रेक्ष्य में पुन: परिभाषित करने और नए ज्ञान के सृजन के प्रति प्रतिबद्ध है.
एशियाई फिलोसॉफी कॉन्फ्रेंस में सन मून यूनिवर्सिटी, दक्षिण कोरिया से प्रो. जियो लियांग ली, श्रीलंका के आधिकारिक भाषा आयोग के चेयरमैन प्रो दया इदीरिसिंघे, वियतनाम बुद्धिस्ट यूनिवर्सिटी होची मिन्ह सिटी के प्रो ली मॉन थेट, मियामी विवि अमेरिका के प्रो रामाराव पप्पू, श्रीलंका के परास्नातक पाली एवं बौद्ध संस्थान के निदेशक प्रो सुमनपाला, आचार्य सभा के महासचिव स्वामी परमात्मानंदजी, कनाडा में एशियाई अध्ययन के एमिरेट्स प्रोफेसर अशोक अकलुजक़र, शंघाई विवि चीन की प्रो हयान शेन, शिवानंद आश्रम एमदाबाद के स्वामी अध्यात्मानंदजी, इलाहाबाद विवि के दर्शन विभाग के पूर्व प्रमुख प्रो. जटाशंकर तिवारी, चेन्नई से प्रो. वेंकटचारी चतुर्वेदी स्वामी, कॉलेज ऑफ ऑर्ट एंव साइंस विभाग कनाडा में धार्मिक शिक्षा विभाग के प्रो बृज सिन्हा और जैन विश्व भारती विवि के कुलपति प्रो बी आर दुग्गड़ जैसे विशिष्ट विद्वान पहुंचे है.

प्रयोगशाला उपकरणों के रखरखाव पर व्याख्यान
भोपाल, प्रयोगशाला में विद्यार्थियों को उपकरण एवं विलियन को किस प्रकार से प्रयोग करना चाहिये ऐसी क्या ऐतिहात बरती जायें कि प्रयोग करते समय विलियन से किसी प्रकार का नुकसान न हो उक्त जानकारी सुरेन्द्र चतुरेश, एक्जीक्यूटिव सेल्स, बोरोसिसल ग्लास वक्र्स लिमिटेड,
मुम्बई द्वारा केरियर कालेज के रसायन शास्त्र विभाग द्वारा आयोजित व्याख्यान में दी गई. प्रयोगशाला में प्रयुक्त कॉंच के उपकरणों का रखरखाव पर आयोजित व्याख्यान में विद्यार्थियों को उपकरण एवं विलियन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियॉं प्रदान की गई. इस अवसर पर विभागाध्यक्ष डॉं. सुपर्णा डॉं. अनिता के.,डॉं. स्वेता एवं डॉं. रूचि दुबे सहित सभी विद्यार्थी मौजूद थे.

हेमा स्कूल में प्ले स्टेशन शुरू
भोपाल,हेमा विद्यालय में के.जी. के बच्चों के लिये नव स्थापित प्ले स्टेशन का उद्धाटन स्कूल के प्रधानाचार्य सोजन जोसेफ द्वारा किया गया. इस अवसर पर हेमा विद्यालय की उपप्राचार्या सिसली वर्गिस, प्रधानाध्यापिका पामेला अब्राहम, के.जी. कक्षा की शिक्षिकाएँ तथा बच्चें उपस्थित थे.
प्राचार्य जोसेफ ने कहा कि झूले तथा फिसल पट्टी से छोटे बच्चों का मनोरंजन होगा तथा बच्चें खुश एवं प्रफुल्लित महसूस करेंगे.
प्ले स्टेशन को आकर्षक रंगीन झूलों और फिसल पट्टियों से सुसज्जित किया गया है जिसमें झूल कर बच्चों ने खुब आनन्द लिया एवं खुश हुये. हेमा एजुकेशन सोसायटी का गठन 1973 में,हेमा (हैवी इलेक्ट्रिकल मलयाली एसोसिएशन) की एक शाखा के रूप भेल टाउनशिप में प्रारम्भ हुआ, जो भारत हैवी इलेक्ट्रिकल कलचरल और नेशनल इनटीग्रेशन समिति (बेकनिक) से संबद्ध है. समिति ने 1973 में हेमा हा. से. स्कूल की शुरूआत की जो पहले एम. पी. बोर्ड से समबद्ध था तथा अब सी.बी.एस.ई दिल्ली से समबद्ध है.

शारदा विहार में वार्षिक उत्सव संपन्न
भोपाल, शारदा विहार विद्यालय में गत वर्ष की भाति इस वर्ष भी संस्कार केंद्रों के भैया-बहिन का वार्षिक उत्सव का आयोजन हुआ. इसमें 35 संस्कार केंद्रों के भैया-बहिन ने भाग हिस्सा लिया. कार्यक्रम का शुभारंभ विशेष अतिथि शिवप्रासद राष्ट्रीय सह मंत्री विद्या भारती अखिल भारती, हितानंद संगठन मंत्री विद्या भारती, मध्यप्रांत पुरूषोतम क्षेत्रीय संस्कार केंन्द्र ने दीप प्रज्जवलित कर किया.
इस अवसर पर शारदा विहार के प्रबंधक अजय शिवहरे, शारदा विहार के प्राचार्य राजेश तिवारी भी विशेष रुप से उपस्थित थे. कार्यक्रम में आए विशेष आतिथि हितानंद कहा कि जैसे-जैसे संस्कार केंद्र आगे बढ़ रहा है उसी प्रकार हमारे देश भी आगे बढ़ रहा है और किसी भी देश का विकास जब तक नही हो सकता जब तक उस देश का व्यक्ति कघे से कधा मिलाकर काम न करे.इस अवसर पर शारदा विहार के प्रबंधक अजय शिवहरे ने कहा कि विद्या भारती की शिक्षा के क्षेत्र में 1952 में शुरुआत हुई थी। विद्या भारती के प्रत्येक प्रांत में केन्द्र है. और हमारा उदेदश्य 35 से बढक़र 50 करना है. और हम इसी योजना के तहत आस-पास के गांव में छात्र-छात्राओं को शिक्षा भी दे रहे है.
कार्यक्रम में संस्कार केंद्रों के भैया-बहिन ने वह आए परिजन सहित सभी का मंत्रमुग्ध कर दिया. कार्यक्रम में भैया-बहिन ने विभिन्न कार्यक्रम प्रस्तुत किए. जिसमें आदिवासी गीत छम-छम जाएं, नगाड़ो सग छोल बाजे, मैया यशोदा तेरा कैन्हैया, चंदा ने पूछा तारो से पर नृत्य प्रस्तुत किए. कार्यक्रम में अंत में प्रत्येक भैया-बहिन को प्रमाण पत्र प्रदान किए गए.

हेमा स्कूल में धूमधाम से मनाया विदाई समारोह

भोपाल,हेमा विद्यालय में 11वीं के विद्यार्थियों द्वारा 12वीं के छात्र छात्राओं को भावभिनी विदाई दी गयी व विदाई समारोह का आयोजन किया गया. कार्यक्रम का प्रारम्भ प्राचार्य सोजन जोसफ, उप प्राचार्या श्रीमती सिसली वर्गिस, हेड बाय, हैड गर्ल द्वारा पारम्परिक रूप से दीप प्रज्जवलन द्वारा किया गया. इस अवसर में कई सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये.
प्राचार्य ने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए शुभाकामनाएँ दी व मार्गदर्शन दिया तथा बच्चों को सकारात्मक सोच रखने की प्रेरणा दी. इस अवसर पर कुनिका यादव मिस ईव तथा नीमेष साहू मिस्टर ईव, आस्था सिंह मिस हेमा, भव्य पाण्डे मिस्टर हेमा चुने गये. रोहन मस्के, धीरज मालवीय, श्रीलक्ष्मी आर वारयर, कुसूम यादव, आषीष षिवालय, मेघा अययर को विद्यालय में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्षन हेतु इनाम प्रदान किए गये.
प्राचार्य सोजन जोसफ ने छात्रों को उनके सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आप अपने जीवन में सफलता की बुलंदियों को छुएं और अपना एवं अपने अभिभावकों का नाम रोशन करें. उन्होंने कहा कि आप सभी इस बात को अवश्य ही गांठ बांध कर रखें कि किसी भी चीज को हासिल करने के लिए मेहनत एवं लगन आवश्यक है और उसके लिए आपको सदैव तैयार रहना चाहिए साथ ही उन्होंने कहा कि आप अपने माता पिता एवं गुरू को कभी ना भूलें क्योंिंक जीवन में ये ही निस्वार्थ भाव से आपका हित चाहते हैं.

औद्योगिक भ्रमण

भोपाल , कॅरियर कालेज के वाणिज्य एंव प्रबंध विभाग द्वारा बी.कॉम एंव बी.बी. ए. के विद्यार्थियों को पीथमपुर स्थित ‘कमिन्स टर्बो टेक्नालाजी प्रा. लि.‘ ओद्योगिक भ्रमण हेतु लेजाया गया जहॉ कम्पनी के ऑपरेशन मेनेजर विशाल मोरे एंव देवोत्तम राय कॉडिनेटर एच.एस. ई. द्वारा उत्पादन प्रक्रिया एंव बेस्ट प्रेक्टिस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी गई. उन्होने बताया कि उत्पादन प्रक्रिया मे किन बातो का ध्यान रखना चाहिए एंव किन बिन्दुओ पर उत्पादन प्रक्रिया की जाती है आदि जानकारी प्रदान की. इस भ्रमण लगभग 50 विद्यार्थी एंव प्रभारी षिक्षक श्रीमति सुनिता चौहान, श्री फिरदौस एहमद सहित विभागाध्यक्ष डॉ.दीपाली बेहरे रजनीश तिवारी आदि प्राध्यापकगण मौजूद थे.

बच्चों ने मनाई लोहरी, पोंगल व मकर संक्रांति

भोपाल, प्रिटी पेटल्स ग्रुप ऑफ़ फाउंडेशन स्कूल्स में लोहरी व संक्रांति मनायी गयी. इस अवसर पर बच्चों ने पवित्र लोहरी अग्नि के चारो तरफ फेरे लगाये व खूब डांस किया. वही कुछ बच्चे अपने हाथों में नन्ही पतंगें व नन्ही चर्किलें हाथ में लिए नाचते रहे. कुछ पतंगबाजों ने बच्चों को पतंगें उदा के दिखायी तो बच्चे बहोत आनंदित होगये। कार्यक्रम के अंत में पंजाबी डिशेस खिलायी गयी और तिल-गुड कि मिठाई खिलायी गयी. बच्चों ने दलेर मेहँदी के गानो पे खूब डांस किया. वहीँ कुछ बच्चे पोंगल की तैयारी करके आए थे तो उन्होंने फूलों की रंगोली सजा कर पोंगल मनाया और एक दूसरे को मीठे चावल खिलाये.

कैम्पियन के 4 स्केटर्स चयनित
भोपाल,कैम्पियन स्कूल भोपाल के चार रोलर स्केटर्स का चयन रानुवजयट्रीय स्केटर्स प्रतियोगिता के लिए हुआ है. रोलर स्केटिंग फेडेरेशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित 54 वीं स्पीड रानुवजयट्रीय रोलर स्केटिंग प्रतियोगिता में चारों स्केटर्स का चयन भोपाल में उनके शानदार प्रदर्र्शन व उनकी योग्यता के आधार पर हुआ हैं। यह प्रतियोगिता 18 जनवरी से 23 जनवरी तक बैंगलुरू (कर्नाटक)
में आयोजित कि जायेगी.कैम्पियन स्कूल के चयनित स्केटर्स में तेगवीर सिंह, चिन्मय वर्मा, मो. अनस बक्ष, तन्मय सिन्हा शामिल हैं. ये सभी खिलाड़ी कैम्पियन स्कूल के कोच संजय मिश्रा जो की इस प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश टीम के कोच भी नियुक्त किए गए है, उनके मागदशर्शन में स्केटिंग रिंक में नियमित प्रशिक्षण ले रहें हैं.