मोटापा बनता जा रहा समस्या ये उतना ही खतरनाक, जितना कैंसर

नई दिल्ली,एक बैरिएट्रिक सर्जन का कहना है कि गंभीर मोटापा उतना ही खतरनाक है जितना अडवांस स्टेज का कैंसर होता है। जिस प्रकार कुपोषण एक बीमारी है उसी तरह अब मोटापा भी बड़ी स्वास्थ्य समस्या बनता जा रही है। विशेषज्ञ का कहना है कि मोटापे का शिकार 70-80 प्रतिशत लोग फैटी लिवर के शिकार हैं और 5 प्रतिशत लोगों में लिवर से संबंधित गंभीर बीमारियां होती हैं। अग्रवाल ने कहा कि देश में ऐसे लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है जिनका वजन या तो सामान्य से अधिक है या फिर वो मोटापे के शिकार हैं। डॉक्टर संदीप ने कहा कि लगभग 20 प्रतिशत बच्चों का वजन सामान्य से अधिक है और 5 प्रतिशत बच्चे मोटे हैं। विशेषज्ञ ने बताया कि डब्ल्यूएचओ के अनुसार मोटापा जल्दी ही पारंपरिक स्वास्थ्य समस्याओं की जगह ले लेगा। मोटापा दुनियाभर में महामारी की तरह फैलता जा रहा है। लोग आवश्यकता से अधिक खा रहे हैं और ज्यादातर इस विषय में जागरूक भी नहीं हैं। घर में खाना न बनाना, बार-बार आउटिंग करना या बाहर से खाना ऑर्डर करके खाना, स्वाद को पोषण पर तरजीह देना…इन आदतों से वे ढेरों बीमारियों को रोज न्योता दे रहे हैं। मोटापे से हृदय रोग, स्ट्रोक, डायबीटीज और घुटनों की बीमारी गठिया भी होता है। अब तक हुई स्टडीज में भी यह बात सामने आ चुकी है कि ऐसे लोग जिनकी उम्र 40 से कम है और वे मोटापे के शिकार हैं उन्हें अलग-अलग तरह का कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। एक स्टडी के मुताबिक ऐसे लोगों में एंडोमेट्रिअल कैंसर का खतरा 70 प्रतिशत, रेनल-सेल कैंसर का खतरा 58 प्रतिशत, मेल कोलोन कैंसर का खतरा 29 प्रतिशत और ओबीसिटी से होने वाले कैंसर का खतरा 15 प्रतिशत रहता है। कुछ ही समय में स्थिति यह आने वाली है कि जब मोटापा रोगकारक और मृत्युकारक के रूप में स्मोकिंग यानी धूम्रपान को भी पीछे छोड़ देगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *