फाड़ी खदान में हुई हत्या के पीछे था प्रेम प्रसंग, पुलिस ने गुत्थी सुलझाई, चार पर हत्या का मामला दर्ज

परासिया, 8 अगस्त को फाड़ी खदान में मिले युवक के शव और प्रारंभिक जांच में आए हत्या के मामले की गुत्थी आखिरकार पुलिस ने सुलझा ली। पुलिस ने मामले में 4 लोगो को गिरप्तार कर उनके खिलाफ हत्या का मामला पंजीबद्ध किया है। हत्याकांड को लेकर प्रेमप्रसंग का मामला सामने आया हैं। अनुविभागीय पुलिस अधिकारी अरविंद सिंह थाना प्रभारी अनिल सिंह ने बताया कि मृतक युवक का पड़ोस की एक युवती से लंबे समय से प्रेमप्रसंग चल रहा था, घटना वाले दिन मृतक जो पेशे से ट्रक चालक था लगभग एक सप्ताह पश्चात घर लौटा और घर में आराम करने के पश्चात युवती से मिलने के लिए चला गया। पुलिस ने बताया कि युवती के भाई आरोपी को पूर्व से ही दोनो के प्रेम प्रसंग को लेकर शक था,जब युवति का भाई घर पहुंचा तो उसे युवति घर में नहीं मिली, युवती की तलाश करते हुए भाई अपने दोस्तो के साथ उस जगह पहुंच गया। जहां मृतक प्रेमिका से मिल रहा था, पुलिस ने बताया कि दोनो को संदिग्ध अवस्था में देखकर आरोपियों ने मृतक से मारपीट करते हुए उसका गला घोट दिया। युवक की दम घूटने से मौत हो जाने के पश्चात चारो आरोपियों ने मृतक के लोहर से हाथ बांधकर उसे पहा?ा् से नीचे फेंक दिया था। मामले मे पुलिस ने शिवा सरयाम पिता जसपाल सरयाम 25 वर्ष निवासी वार्ड नं.07 चालीस क्वाटर परासिया, अभिषेक पिता गोपी यादव 19 वर्ष निवासी वार्ड नं. 07 चालीस क्वाटर परासिया, राहुल पिता कमल किशोर विश्वकर्मा 23 वर्ष निवासी वार्ड नं.07 चालीस क्वाटर परासिया एवं राजा उर्फ नवीन पिता भैयालाल यादव उम्र 31 वर्ष निवासी वार्ड नं.07 चालीस क्वाटर परासिया के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत प्रकरण पंजीबद्व कर गिरप्तार कर लिया हैं।
हत्या के दो दिन पश्चात मिला युवक का शव
पकड़े गए चारो आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल करते हुए पुलिस को बताया कि उन्होंने 8 अगस्त को ही युवक की गलाघोट कर हत्या कर दी थी तथा शव को पहाड़ी के नीचे फेंक दिया था। वही घटना के दो दिनो पश्चात मृतक के पिता ने पुलिस को सूचना दी कि पहाड़ी में उसके बेटे का शव मिला है। मौके पर पहुंची पुलिस को घटना स्थल पर ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिले थे कि पुलिस हत्यारे तक पहुंच जाएं। प्रारंभिक में पुलिस ने हत्या का प्रकरण पंजीबद्व कर मामले में जब जांच शुरू की तो पुलिस के जांच में परत दर परत खुलती चली गईं।
पवित्र रिश्तों की आड़ में चल रहा था प्रेम प्रसंग
मृतक आनंद वर्मा पिता महेश वर्मा उम्र 25 वर्ष निवासी वार्ड नं. 07 चालीस क्वाटर परासिया पेशे से ट्रक ड्रायव्हर था। वह घटना से करीब एक हफ्ते पहले कोयले का ट्रक लेकर मैहर गया था घटना वाले दिन मृतक घर पर ही रहा शाम को वह घूमने निकला और दोस्तों के साथ शराब पी। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह जिस युवती के साथ संदिग्ध अवस्था में देखा गया रिश्ते में उसे बहन मानता था रिश्तों की आढ मे उससे अवैध संबंध बना लिये थे। घटना दिनांक को वह शराब के नशे मे आया और अपनी मुंहबोली बहन के साथ खंती पर पहुंचा। जब यह बात लडकी के भाई को मालूम पड गयी जो अपने दोस्तों के साथ वहां पर पहुंचा आनंद के साथ मारपीट की और लडकी के भाई ने उसके गले मे गमछे का फंदा बनाकर कस दिया जिससे उसकी मृत्यु हो गयी। उसके बाद मृतक के शव के हाथ उसके ही चड्डे से बांध दिया तथा मुंह पर तौलिया लपेट कर खंती मे फेंक दिया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *