भारत और इंग्लैंड के बीच आज मुकाबला, मैच जीतने के साथ ही सेमीफइनल में पहुँच जायेगा भारत

बर्मिंघम, विश्व कप क्रिकेट में आज रविवार को भारत और मेजबान इंग्लैंड के बीच अहम मुकाबला होगा। इस मुकाबले में जीत के साथ ही भारतीय टीम सेमीफाइनल में पहुंच जाएगी, वहीं इंग्लैंड रेस से बाहर हो जाएगी। विश्व कप में अब तक भारतीय टीम का सफर अजेय रहा है। भारतीय टीम के 11 अंक हैं, वहीं दूसरी ओर मेजबान टीम है इंग्लैंड के लिए यह अंतिम अवसर है। इस टूर्नामेंट से पहले इंग्लैंड खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही थी पर इंग्लैंड की टीम कुछ मैचों में नाकाम रही इस कारण अब सात मैचों में उसके केवल छह अंक हैं और वह टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर है।
इस मैच में भारतीय प्रशंसकों की बढ़ी तादाद भी मेजबान टीम पर दबाव बना सकती है। भारतीय टीम की बल्लेबाजी और गेंदबाजी काफी अच्छी है कप्तान विराट कोहली लगातार रन बना रहे हैं। इसके अलावा रोहित शर्मा और अनुभवी महेन्द्र सिंह धोनी जैसे बल्लेबाज हैं। भारतीय टीम की कमजोरी केवल मध्य क्रम है जो अभी तक उम्मीद के अनुसार रन नहीं बना पाया है। जहां तक गेंदबाजी की बात है भारतीय टीम के पास जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार ओर मो शमी जैसे तेज गेंदबाज हैं। वहीं स्पिन की बात करें तो कुलदीप यादव और यजुवेन्द्र चहल लय में हैं और उनका सामना करना मेजबान बल्लेबाजों के लिए आसान नहीं होगा। हार्दिक पंड्या जैसा ऑलराउंडर भी टीम के पास है। इसके बावजूद इस मैच में भारतीय बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर बनाना होगा क्योंकि इंग्लैंड के पास शानदार बल्लेबाजी क्रम है जो अंत तक रन बनाने ओर किसी भी लक्ष्य को हासिल करने में सक्षम है।
भारतीय टीम के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि उन्होंने अभी तक अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट नहीं खेला है, फिर भी वह आसानी से जीत हासिल कर रही है। मध्यक्रम बल्लेबाजी अब भी चिंता का विषय है और चौथे नंबर पर विजय शंकर का प्रदर्शन निश्चित रूप से उन्हें कमजोर कड़ी बनाता है माना जा रहा है कि इस मैच में विजय की जगह ऋषभ पंत को अवसर मिल सकता है।
मेजबान इंग्लैंड की बात करें तो उसके पास भी यहां जीतने के अच्छे अवसर हैं। इंग्लैंड ने पिछले 12 माह में काफी बेहतरीन मैच खेले गए हैं और उनके पास जोफ्रा आर्चर जैसा तेज गेंदबाज हैं जो अंतर पैदा कर सकता है। आर्चर इस विश्व कप में अभी तक 16 विकेट ले चुके हैं और वह टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ जिस प्रकार भारतीय बल्लेबाज रन नहीं बना पाये उससे भी कई सवाल उठ रहे हैं। इन दोनो मैचों को भारत ने गेंदबाजी के बल पर जीता पर इंग्लैंड के ताकतवार बल्लेबाजी क्रम को आउट करने के लिए एक अच्छा स्कोर जरुरी है।
यदि इंग्लैंड शुरु में भारतीय शीर्ष क्रम को जल्दी पवेलियन भेज देता है तो उसके पास टीम पर दबाव बनाने का मौका होगा।
इंग्लैंड के पास ऐसे कई बल्लेबाज हैं, जो अकेले दम पर टीम को मुकाबला जीता सकते हैं। इंग्लैंड की सबसे बड़ी ताकत तो यही है कि उनके सभी 11 खिलाड़ी बल्लेबाजी कर सकते हैं। यदि इंग्लिश बल्लेबाज अपनी फॉर्म में आ जाते हैं तो भारतीय गेंदबाजों का उन्हें बड़ा स्कोर करने से रोकना मुश्किल हो जाएगा। जहां तक तेज गेंदबाजी की बात है उसके पास मार्क वुड, टॉम कुरेन और जोफ्रा आर्चर हैं। स्पिनर की बात करें तो टीम के पास मोइन खान और आदिल रशीद हैं।
दोनो संभावित टीम इस प्रकार हैं :
भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, विजय शंकर, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, भुवनेश्वर कुमार, रवींद्र जडेजा ।
इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), जेम्स विंस, जानी बेयरस्टो (विकेटकीपर), जो रूट, बेन स्टोक्स, जोस बटलर, मोईन अली, आदिल राशिद, मार्क वुड, क्रिस वोक्स, जोफ्रा आर्चर, जेसन राय, लियाम प्लंकेट, टाम कुरेन और लियाम डासन।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *