बेयरस्टो के शतक की मदद से इंग्लैंड ने भारत को दिया 338 रनों का लक्ष्य

बर्मिंघम, जॉनी बेयरस्टो के शानदार शतक और जेसन रॉय की अर्धशतकीय पारी से मेजबान इंग्लैंड ने विश्व कप के 38 वें मुकाबले में टीम इंडिया के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में सात विकेट पर 337 रन बनाये। इस प्रकार भारतीय टीम को जीत के लिए 338 रनों का लक्ष्य मिला है। इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया।
पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत शानदार रही और पहले विकेट के लिए ही सलामी बल्लेबाजों जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय ने 160 रनों की साझेदारी की। कुलदीप यादव की 23वें ओवर की पहली गेंद पर रॉय रविंद्र जडेजा के हाथों कैच आउट हो गए इस प्रकार भारतीय टीम को पहली सफलता मिली। रॉय ने 57 गेंदों पर 2 छक्कों और 7 चौकों की मदद से 66 रन बनाए। वहीं बेयरस्टो 32वें की चौथी गेंद पर ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट हुए। बेयरस्टो का विकेट शमी ने लिया। बेयरस्टो ने 109 गेंदों पर 111 रनों की शतकीय पारी खेली जिसमें 6 छक्के और 10 चौके शामिल थे। इसके बाद शमी ने 34वें ओवर की चौथी गेंद पर अपना दूसरा विकेट कप्तान इयोन मोर्गन को केवल एक रन पर केदार जाधव के हाथों कैच कराकर लिया। शमी ने जो रुट को 44 रनों पर हार्दिक पंडया के हाथों कैच कराकर भारत को चौथी सफलता दिलाई। बीच के ओवरो में लगातार विकेट गिरने से इंग्लैंड की रन गति पर भी भारतीय गेंदबाजों ने अंकुश लगाया। शमी ने बटलर और वोक्स को आउट कर इंग्लैंड को लगातार पांचवां और छटा झटका दिया। बुमराह ने बेनस्टोक को आउट कर इंग्लैंड को सातवां झटका दिया। बेनस्टोक 79 रन बनाकर आउट हुए। भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट शमी ने 69 रन देकर पांच विकेट लिए इसके अलावा कुलदीप यादव ने 72 रन देकर एक विकेट लिया। बुमराह ने भी 44 रन देकर एक विकेट लिया।
बेयरस्टो की बल्लेबाजी मेजबान टीम की पारी का आकर्षण रही। बेयरस्टो ने इस मैच में अपने एकदिवसीय करियर का आठवां शतक पूरा किया। बेयरस्टो ने शतक पूरा करने के लिए 90 गेंदें खेलीं। इस दौरान उन्होंने आठ चौके और छह छक्के लगाये।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *