पुलिस इंस्पेक्टर की पत्नी की हत्या मामले में फरार बेटा जोधपुर में गिरफ्तार

मुंबई, शीना बोरा मर्डर केस की जांच टीम में शामिल रहे मुंबई के पुलिस इंस्पेक्टर ज्ञानेश्वर गणोरे की पत्नी दीपाली गणोरे के सनसनीखेज मर्डर के बाद उनका बेटा सिद्धांत फरार हो गया था, जिसे राजस्थान के जोधपुर में पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने की खबर है। एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक सिद्धांत ने ह्त्या की बात काबुल कर लिया है, उसने पुलिस को बताया है कि वह रोज-रोज माता-पिता के झगड़े से परेशान हो गया था. हत्या के बाद वह ट्रैन पकडकर जोधपुर चला गया जहाँ रेलवे स्टेशन पर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. मुंबई से पुलिस टीम उसे लाने जोधपुर के लिए रवाना हो चुकी है. आपको बता दें कि इस हत्या के पीछे उसका ही हाथ बताया जा रहा था। दरअसल मर्डर के बाद फर्श पर खून से अंग्रेजी में दो लाइनें लिखी पाई गईं, जिसका हिंदी अर्थ है- ‘उनसे (मां से) परेशान हूं। (मुझे) पकड़ो और लटका दो।’ यही नहीं इस संदेश के साथ ही एक स्माइली भी बनाई गई है। माना जा रहा था कि यह सिद्धांत ने ही लिखा होगा। अलमारी से कुछ रुपये भी गायब हैं। सूत्रों का कहना है कि सिद्धांत बीएससी (फर्स्ट इयर) में पढ़ता है। वह पिछले साल फेल हो गया था, इसलिए उसकी मां दीपाली उसे पढ़ाई के लिए समझाती रहती थीं। उन्होंने उसकी सोशल मीडिया गतिविधियों पर भी बैन लगा दिया था। गणोरे परिवार का मुंबई के सांताक्रुज पूर्व के वकोला स्थित प्रभात कॉलोनी में एजी पार्क बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर घर है। ज्ञानेश्वर मंगलवार रात ड्यूटी खत्म करके करीब ११ बजे जब घर पहुंचे, तो घर का दरवाजा बाहर से बंद पाया। उन्होंने पत्नी और बेटे को फोन लगाया, पर दोनों के मोबाइल बंद मिले। उन्हें लगा कि शायद वे फिल्म देखने गए होंगे, इसलिए वह लौट गए और रात दो बजे फिर आए। उन्हें शू रैक में घर की चाबी मिली। वह अंदर गए, तो पत्नी को खून से लथपथ पाया। गणोरे के मुताबिक उन्होंने अपनी पत्नी से आखिरी बार मंगलवार शाम पांच बजे बात की थी। इसके बाद घर में उनका फोन किसी ने नहीं उठाया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *