बरातियों की बस से टकराया बिजली का तार, करंट से दूल्हे के 2 रिश्तेदारों की मौत

जोधपुर,शहर से ६० किमी दूर सज्जनगढ़ क्षेत्र के मस्कावाली महुड़ी गांव में मंगलवार शाम बारातियों से भरी बस की छत पर ११ केवी बिजली के तार छूने से एकाएक करंट दौड़ा। जिससे एक महिला और एक बालिका की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। जबकि १२ बाराती घायल हो गए। घायलों को नजदीकी छोटा डूंगरा अस्पताल ले जाया गया। जहां ३ जनों की हालत खराब होने पर बांसवाड़ा रैफर कर दिया गया। हादसा बस की छत पर रखे कन्यादान के सामान पलंग और दूसरे लोहे के सामान को बिजली के तार छूने से होना बताया जा रहा है।
घायलों से मिली जानकारी के मुताबिक टांडीबड़ी से बिजलपुर गांव में नूरजी डामोर के बेटे कमल की बारात आई हुई थी। दिनभर खुशी का माहौल रहा और शाम को बाराती बस से वापस लौटने लगे। शादी में मिले पलंग और दूसरे घरेलू सामान को बस की छत पर रखा। इसी बीच कुछ बाराती बस की छत पर सवार हो गए। बस बारातियों से ठसाठस भर गई। गीत गाते हुए बारात टांडीबड़ी के लिए रवाना हुई। गांव से ४ किमी पहले मस्कावाली महुड़ी गांव में ११ केवी बिजली के तार बस की छत पर रखे सामान को छू गए। जिससे करंट दौड़ा। एकाएक करंट का जोरदार झटका लगने से छत पर बैठे बारातियों ने कूदकर जान बचाई। चीखने की आवाज पर बस में बैठे बाराती भी सकपका गए और जान बचाने बाहर निकले दरवाजे की और दौड़े। इसी दौरान दरवाजे के पास पहुंची टांड़ीबड़ी की सीता डामोर (४५) पत्नी भरत डामोर और कृपा डामोर (१५) पुत्री कमला डामोर को जोरदार करंट का झटका लगा और नीचे गिर पड़ी। वहीं करंट के झटके लगने से १२ बाराती घायल हो गए। जैसे-तैसे करके बाराती बस से बाहर निकले। इत्तला पर सज्जनगढ़ एएसआई अंबालाल दल के साथ पहुंचे और घायलों को तुरंत छोटा डूंगरा सीएचसी ले गए। जहां डॉक्टर ने सीता और कृपा को मृत घोषित कर दिया। हादसे की खबर मिलते ही संसदीय सचिव भीमाभाई डामोर, उपखंड अधिकारी रामदयाल मीणा और तहसीलदार मुकेशचंद्र मीणा भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान संसदीय सचिव ने मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से मदद दिलाने का भरोसा दिलाया।
ये हुए घायल : हादसे में रमीला (३०) पत्नी राजेश, मीठा (५५) पत्नी नुरजी, पूनी (६०) पत्नी हवसिंग को प्राथमिक जांच के बाद रैफर कर दिया। इसके अलावा बदी (१२) पुत्री नीकू, सुजीता (२०) पुत्री सूका, उर्मिला (१३) पुत्र भारत, मीना (८) पुत्री राजू, शिल्पा (५) पुत्र राकेश, कर्मा (३२) पत्नी थावरा, सुषमा (१८) पुत्री सूका, अनील (५) पुत्री सूका, कमलेश (५) पुत्र सूका का सीएचसी पर इलाज चल रहा है। सभी एक ही गांव के हैं और कुछ दूल्हे के रिश्तेदार भी बताए जा रहे है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *