बार्डर पर तैनात किए सिर काटने के लिए कुख्यात बैट कमांडोज

नई दिल्ली,पाकिस्तान एक बार फिर कायरना हरकत करने की फिराक में हैं, क्योंकि कुलभूषण जाधव केस में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में मिली शा\मदगी और सीमा पर भारतीय जवानों के मुंहतोड़ जवाब से तिलमिलाया पाकिस्तान अब धोखे से वार करने की साजिश रच रहा है। पाकिस्तान ने लाइन ऑफ कंट्रोल के नजदीक अपनी बॉर्डर ऐक्शन टीम (बैट) के कमांडोज तैनात किए हैं। इनका मकसद गश्त कर रहे भारतीय जवानों पर घात लगाकर हमला करना है। बता दें कि पूर्व में भी बैट भारतीय जवानों के शव क्षत-विक्षत करने और उनके सिर काटने में लिप्त रहा है। पाक की इस नई साजिश का खुलासा अग्रेंजी चैंनल की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान बॉर्डर ऐक्शन टीम में न केवल सेना के जवान, बल्कि आतंकी भी शामिल हैं। इंटेलिजेंस रिपोर्ट कहती है कि बीएटी लाइन ऑफ कंट्रोल और खासकर हाजी पीर एरिया के नजदीक जवानों को निशाना बनाने की फिराक में है।
कुलभूषण जाधव की फांसी पर इंटरनेशनल कोर्ट द्वारा रोक लगाए जाने के बाद पाक सेना अपनी रणनीति बदलते हुए भारतीय जवानों को निशाना बनाने की साजिश रच रही है। पाक की साजिश का उस वक्त खुलासा हुआ, जब १७ और १८ मई को पाकिस्तानी सीजफायर उल्लंघन का भारत ने माकूल जवाब दिया। भारतीय फायरिंग में एक पाकिस्तानी एसएसजी कमांडो मारा गया। एलओसी के इलाके में इतने प्रशिक्षित कमांडो की मौजूदगी से उठे सवाल की पड़ताल करने पर पाकिस्तान की नई साजिश सामने आई।
बता दें कि इसी गुरुवार को भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा फांसी की सजा सुनाए जाने के फैसले पर आईसीजे ने रोक लगा दी थी। इस वजह से पूरे पाकिस्तान में तीखी प्रतिक्रियाएं सामने आई थीं। उधर, सीमा पर पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर उल्लंघन के मद्देनजर इंडियन आर्मी ने भी मुंहतोड़ जवाब देना शुरू कर दिया है। कूटनीतिक मोर्चों पर भी भारत पड़ोसी मुल्क को अलग-थलग करने में कामयाब रहा है। इतने सारे मोर्चों पर मिल रहा शिकस्त से तिलमिलाया पाक फिलहाल घाटी में प्रॉक्सी वॉर के जरिए हिंसा को बढ़ावा देने में लगा हुआ है।उधर हमले की स्थिति को भंपाते हुए भारतीय वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ हर अफसर को तैयार रहने के लिए कह दिया है।एयर चीफ मार्शल ने कहा हैं कि सभी १२ हजार जवान शार्ट नोटिस पर कार्रवाई करने के लिए तैयार रहे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *