तीन सड़क हादसों में 18 की मौत

सीहोर, मध्य प्रदेश के धार जिले के धामनोद में मंगलवार सुबह हुए एक सड़क हादसे में दूल्हे समेत नौ लोगों की मौत हो गई। बारात इछावर से मनावर जा रही थी। इछावर के गांव रुगदी निवासी मुकेश पिता जगदीश जाट की बरात तीन गाडिय़ों से मनावर के सिरसी गांव के लिए निकली थी। दूल्हे मुकेश सहित नौ लोग इनोवा में सवार थे। दूल्हे की गाड़ी सुबह गणेश घाट से गुजर रही थी। इस दौरान आगे चल रहे ट्रक ने अचानक ब्रेक लगाया तो कार के ड्राइवर ने भी ब्रेक लगा दिया। पीछे चल रहे एक कंटेनर ने भी ब्रेक लगाया। लेकिन, कंटेनर का ब्रेक फेल हो गया। कंटेनर इनोवा के ऊपर चढ़ गया और उसे घसीटते हुए करीब 200 मीटर दूर जाकर रुका। आठ लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वहीं ड्राइवर किशनलाल गंभीर है। कंटेनर के ड्राइवर राजेंद्र की भी मौत हो गई, जबकि क्लीनर सुरेश पिता खेमराज गंभीर घायल है।
गणेश घाट पर हुए इस हादसे में दो क्रेन की मदद से गाड़ी काटकर शवों को बाहर निकाला गया। इन शवों को पोटली में बांधकर ले जाया गया। हादसे के बाद दुल्हन के गांव में मातम पसर गया है। मृतकों में दूल्हे के अलावा बीना पिता बीरम जाट, सुरेश पिता मोहनलाल जाट, नंदलाल पिता गोविंद सिंह, राधेश्याम पिता बद्रीलाल जाट,महेश पिता बद्रीप्रसाद जाट, बाबूलाल पिता काशीराम जाट, कैलाश पिता प्रभुलाल और कंटेनर ड्राइवर राजेंद्र पिता मोहनसिंह।
ट्रैक्टर पलटा छह की मौत
ग्वालियर, हाइड्रोलिक प्रेशर सिस्टम के अचानक शुरू होने से ट्रेक्टर ट्रॉली के पलटने से छह बारातियों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में 16 लोग घायल हो गए। भोंटुपारा गांव के निवासी गिरिराज के बेटे रमेश की शादी सोमवार को थी। बारात भीमलत गांव गई थी। मंगलवार की सुबह बारात लौट रही थी। उसी दौरान कराहल के पास रानीपुरा इलाके में अचानक ट्रॉली का हाइड्रोलिक प्रेशर उठ गया। ट्रैक्टर-ट्रॉली के पलटते ही सभी बाराती दब गए। गांव वालों की मदद से घायलों को निकाला गया। चार की मौत घटना स्थल पर ही हो गई, जबकि दो ने कराहल के अस्पताल में दम तोड़ा।
हादसे में रामदास, संजय, विशाल, सोनी और रामहेत की मौत हुई है। एक की पहचान बाकी है।

बस पटली तीन की मौत
सतना, सतना जिले के उचेहरा थाना क्षेत्र के भटनवारा गांव के पास सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात बारात लेकर जा रही निजी यात्री बस अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 25 लोग घायल हो गए।
जानकारी के अनुसार, तेज गति से कोटर जा रही बस एक मोड़ पर अनियंत्रित होकर पहले बिजली के खंबे से टकराई और बाद में पलट गई। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर हादसे की जांच शुरू कर दी है। सांसद गणेश सिंह और जिला कलेक्टर नरेश पाल सिंह जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों से मिले। बस हादसे में राजबहादुर सिंह (45) पिता लक्ष्मण सिंह, निवासी ग्राम बिहरा, अजय सिंह (22) पिता सुनील प्रताप सिंह, निवासी बिहरा तथा भूपेन्द्र सिंह पिता रामप्रताप सिंह ग्राम रेउरा थाना कोटर की मौत हो गई है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *