मंत्री पद गंवाने के बाद कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर लगाए सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ कैश लेने का आरोप

नई दिल्ली, दिल्ली सरकार में मंत्री पद से हटाए जाने के दूसरे ही दिन कपिल मिश्रा ने आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उनकी मौजूदगी में सत्येंद्र जैन से दो करोड नगद लेने का आरोप लगाया है। उन्होंने बापू की समाधि राजघाट पर मीडिया से बात करते हुए यह आरोप लगाया। उन्होंने कहा अरविंद केजरीवाल पर जमीन सौदे को लेकर सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये नकद लिए हैं।
ये लगाए हैं आरोप
मेरे सामने सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल को अवैध दो करोड़ रुपए दिए। मेरे सामने यह सब हुआ। उसके बाद भी उन्हें क्लीनचिट दी जा रही है। मैं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछना चाहता हूं कि सत्येंद्र जैन को भ्रष्टाचार को बचाने की क्या जरूरत है और आखिर खुद पैसे लेने की क्या जरूरत आ पड़ी थी। -अरविंद केजरीवाल की ईमानदारी के लिए लोग उनसे जुड़े। मैं अपने बयान पर कायम हूं और सीबीआई के सामने भी यह बयान देने को तैयार हूं।
मैंने एलजी अनिल बैजल से रविवार की सुबह मुलाकात की। मैं उन्हें टैंकर घोटाले से जुड़ी जानकारी देने गए था।
उन्होंने कहा मैंने मंत्री बनने के एक महीने के भीतर सीएम को चिट्ठी लिखी। मैंने 400 करोड़ रुपये के घोटाले की बात कही। कल ही मैंने एंटी करप्शन ब्यूरो के प्रमुख से मिलने का वक्त मांगा जिसके बाद मुझे मंत्री पद से हटा दिया गया।
मैं अपनी नौकरी छोड़कर आया था। चुनाव हारा फिर जीता। उन्होंने कहा कि कैबिनेट में रहते हुए ऑन रिकॉर्ड बयान देकर आया हूं।
कुछ लोगों को भ्रष्टाचारियों को बचाने की आदत हो गई है। कुछ लोग गलत काम कर रहे हैं। पार्टी में किसी भ्रष्टाचारी को नहीं छोड़ेंगे। जेल भिजवा कर दम लूंगा। वह बताएं कि पैसा कहां से आया।
मिश्राा ने कहा कि कानून को अपनी कार्रवाई करनी चाहिए। मैं दो साल का कैबिनेट साथी रहा हूं। परसों ही जमीन के सौदे का दो करोड़ कैश अरविंद केजरीवाल ने पैसे लिए। ये लेनदेन केजरीवाल के घर पर हुए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल की जमीन का सौदा किया गया था। यह जमीन 50 करोड़ रुपये की थी। यह जमीन अरविंद केजरीवाल के रिश्तेदार की थी। यह बात उन्हें सत्येंद्र जैन ने भी बताई थी। जिसके बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल से भी इस मुद्दे पर बात की।
यह भी कहा
्रमैं आम आदमी पार्टी छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा। यह पार्टी मेरी है, इसी में रहकर लड़ाई लड़ूंगा।
कपिल मिश्रा, निष्काषित मंत्री
इन आरोपों को कोई स्वीकार नहीं करेगा। मिश्रा के आरोप उलजलूल हैं। उस पर कुछ नहीं कहा जा सकता।
– मनीष सिसोदिया, उपमुख्यमंत्री, दिल्ली
अरविंद ने मेरा विश्वास तोड़ा है। मुझे काफी विश्वास था, मगर सब टूट गया है। ये मेरे लिए बहुत बड़ी बात है।
– अन्ना हजारे, प्रसिद्ध समाजसेवी
ये आरोप निराधार हैं। अरविंद रिश्वत लेंगे ये मैं क्या उनका कोई दुश्मन भी नहीं मान सकता है। इन आरोपों की जांच होनी चाहिए।
-कुमार विश्वास, आप नेता
ये आरोप नहीं, गवाही है। केजरीवाल ने लालू प्रसाद को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्होंने अपने ही कैबिनेट मंत्री से रिश्वत ली।
-मनोज तिवारी, भाजपा अध्यक्ष, दिल्ली
अरविंद केजरीवाल जिन बातों के लेकर सत्ता में आए थे अब वह सब पीछे छूट गई है। अब केजरीवाल को कांग्रेस पर आरोप लगाने से पहले खुद सोचना चाहिए।
– अजय माकन, अध्यक्ष, दिल्ली कांग्रेस

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *