जून से दौड़ेगी तेजस, फ्री वाई-फाई, कॉफी वेडिंग मशीन होगी

मेट्रो रेल जैसी होगी दरवाजे, डिब्बे की डिजाइन
नई दिल्ली,आधुनिक सुविधाओं के साथ तेजस ट्रेन जल्द ही पटरियों पर उतरने वाली है। पहली ट्रेन जून से मुंबई और गोवा के बीच दौड़ेगी। इसमें यात्रियों को प्रसिद्ध शेफ द्वारा तैयार व्यंजन खाने को मिलेंगे। ट्रेन में टी और कॉफी वेंडिंग मशीनें होंगी। हर सीट पर एलसीडीक्रीन के अलावा वाई-फाई सुविधा भी होगी। ट्रेन के 20 कोच इन फैसिलिटीज से लैस होंगे। खास बात यह है कि ये देश की पहली ट्रेन होगी जिसके सभी कोच में ऑटोमेटिक डोर क्लोजिंग के साथ ही सुरक्षित गैंगवेज (डिब्बों के बीच के कॉरिडोर्स) होंगे। वर्तमान में ऑटोमेटिक डोर क्लोजिंग सिर्फ मेट्रो ट्रेनों में है, जबकि ट्रेनों में गैंगवेज खुले होते हैं, जिन्हें सुरक्षित नहीं माना जाता है। इस ट्रेन का ऐलान बजट में किया गया था। मुंबई-गोवा के बाद दूसरी तेजस ट्रेन को दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर चलाई जा सकती है। पहले रैक को रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला में तैयार किया गया है।
यह सुविधाएं होंगी
इस ट्रेन में टी और कॉफी वेंडिंग मशीनें, पत्रिकाएं और स्नैक टेबल्स, हर पैसेंजर के लिए एलसीडी क्रीन, बायो-वैक्यूम टॉयलेट्स में वाटर लेवल इंडीकेटर्स, सेंसर्ड टैप और हैंड ड्रायर्स (हाथ को सुखाने वाली मशीनें) लगे होंगे। मनपसंद खाना तो मिलेगा ही, वाई-फाई फैसिलिटी और टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड भी होगा। ट्रेन के अंदर का कलर बाहर के कलर से मैच करेगा जिससे पैसेंजर्स को विश्व स्तरीय यात्रा का अहसास मिलेगा।
यह सुविधाएं भी मिलेंगी
एग्जीक्यूटिव क्लास और चेयर कार वाली तेजस एक्सप्रेस में कैटरिंग सर्विस राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह होगी। इसके कोच में 22 नए फीचर्स हैं, इनमें आग और धुएं का पता लगाने वाला और उन्हें रोकने वाला सिस्टम भी शामिल है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *