मालथौन में प्राचीन जल-स्रोतों का वैज्ञानिक अनुसंधान होगा

भोपाल,केन्द्रीय जल-संसाधन मंत्री उमा भारती ने शुक्रवार को सागर जिले के मालथौन में एक प्राचीन जल-स्त्रोत का अवलोकन किया। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि जल-स्त्रोत से संबंधित वैज्ञानिक अनुसंधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने ऐसे प्राचीन जल-स्त्रोत के संरक्षण की पहल की है। इसके लिए राज्य अंश की आवश्यकता नहीं होगी। स्थानीय प्रशासन के सहयोग से जल-स्त्रोत के संरक्षण की योजना क्रियान्वित की जा सकती है।
इस अवसर पर जल-संसाधन और जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने प्रत्येक जल-स्त्रोत को उपयोगी बनाने की बात कही। मालथौन के महाकाली मंदिर परिसर में स्थित प्राचीन जल-स्त्रोत का जल-संसाधन विभाग के अधिकारियों ने भी निरीक्षण किया।
इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती, जल-संसाधन और जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र और गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने महाकाली मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। कार्यक्रम में उत्तरप्रदेश के सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह भी उपस्थित थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *