विधायक के मामला उठाने पर तीन सस्पेंड

मंदसौर, विधायक यशपालसिंह सिसौदिया द्वारा सीतामऊ जनपद पंचायत में आर्थिक नियमितताओं के मामले में जनपद पंचायत सीईओ पीसी पाटीदार सहित अन्य कर्मचारियों की कार्यप्रणाली का मामला विस में प्रश्र के तहत उठान के बाद पीसी पाटीदार सहित तीन को सस्पेंड कर दिया गया है।
इसमें पहले एफआईआर के आदेश भी हो गए थे। लेकिन उसे दबा दिया गया। जब यह मामला अतारांकित प्रश्र के उत्तर में नियम विरूद्ध परफारमेंस गारंटी राशि में विद्युत पंप, मोटर केबल और पाइप को जनपद पंचायत द्वारा खरीदा गया। जिसकी जांच सहायक आयुक्त उज्जैन द्वारा की गई। इस संबंध में आयुक्त के निर्देशानुसार संयुक्त आयुक्त द्वारा कलेक्टर मंदसौर को पत्र दो मार्च को प्रेषित किया गया। जिसमें जनपद सीईओ को आर्थिक अनियमितता में प्रथम दृष्टया दोषी पाया गया। सीईओ के विरूद्ध नियमा विरूद्ध कार्य करने के लिए निलंबन की कार्रवाई के लिए कहा गया। किंतु विभाग द्वारा संबंधित सीईओ के खिलाफ आज दिनांक तक कार्रवाई नहीं हो पाई। इससे आम जनता में प्रशासन की छबी धुमिल हो रही है। विस में मामला उठने के बाद पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव ने जनपद सीतामऊ के सीईओ पीसी पाटीदार, सहायक लेखाधिकारी मोतीसिंह राठौर और मनीष कोरी को निलंबित किया गया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *