बहादुरी को सलाम : अपहर्ता के हाथ में काटकर छूटी छात्रा

बड़वानी, नाबालिग स्कूली छात्रा को जब एक बदमाश हाथ पकडक़र जबरदस्ती कार में बैठाने का प्रयास कर रहा था तो छात्रा ने हिम्मत दिखाई और उसके हाथ पर काटकर भागी. बदमाश के चंगूल से छुटकर भागी छात्रा सीधे स्कूल पहुंची और इसकी जानकारी शिक्षकों को दी. इसके बाद स्कूल स्टाफ ने थाने पर पहुंच घटना की पूरी जानकारी दी.
राजघाट रोड स्थित सिद्घेश्वर मंदिर के पास वैष्णवी विद्या विहार में पढऩे वाली कक्षा छटी की छात्रा पिंकी पिता राजेश गोस्वामी ने अपनी बहादूरी दिखाने हुए अपहरण की वारदात को टाल दिया. छात्रा पिंकी ने बताया कि उसके माता-पिता बड़वानी कुकरा बसाहट में रहते हैं. वह 5 किमी दूर राजघाट में उसके दादा-दादी के साथ रह रही है. वह रोजाना की तरह शनिवार की सुबह राजघाट से बस में सवार होकर स्कूल के लिए निकली थी. बड़वानी पहुंचते ही वह स्कूल के पास सडक़ किनारे उतर गई. उसके पास पेंसिल नहीं थी, तो वह सिद्घेश्वर मंदिर के पास स्थित दुकान पर पेंसिल लेने जा रही थी. इसी दौरान मंदिर के पास मुंह पर कपड़ा बांधे एक अज्ञात शख्स ने आकर उसे चॉकलेट देने का लालच दिया.
मना करने पर उसने हाथ पकड़ लिया और सडक़ किनारे खड़ी एक कार की ओर ले जाने लगा. छात्रा ने स्थिति का भांप लिया. छात्रा ने सुझबुझ और हौंसले से काम लेते हुए आरोपी के हाथ पर दांतों से काटा और छूटकर वहां से स्कूल भाग आई. बालिका ने बताया कि मारूति वेन में पहले से चार लोग सवार थे. बालिका के इस साहस व सूझबूझ से एक बड़ी घटना टल गई.
घटना किसी ने नहीं देखी है, सीसीटीवी फूटेज में ऐसा कोई वाहन गुजरते हुए नहीं दिखाई दे रहा है. दुकानदारों से भी पुछताछ की है किसी को कोई जानकारी नहीं है. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है.
बीआर वर्मा
थाना प्रभारी
कोतवाली बड़वानी

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *