मौसम : ओले गिरे,फसल तबाह

भोपाल, फरवरी मध्य में मध्यप्रदेश के कई संभागों में शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात से अचानक मौसम ने करवट बदल ली जिससे कहीं-कहीं पानी के साथ ओले गिरे.भोपाल में दिन भर रूक-रूक कर पानी गिरता रहा.
कश्मीर में बर्फबारी की वजह से उत्तर से आने वाली हवाओं से पारा लुढक़ा जिससे अरब सागर की नमी से मौसम में बदलाव आया है.बदले हुए मौसम की वजह से लोगों को फिर रजाई और कंबल निकालने पड़े. पिछले दिनों गर्मी के चलते उसे लोगों ने हटा लिया था. शनिवार को सबसे ज्यादा बारिश रीवा व खजुराहो व जबलपुर में दर्ज की गई. सीहोर व उसकी तहसील इच्छावर, विदिशा आलमपुर, उदयपुरा और गैरतगंज में कई स्थानों पर ओले के साथ बारिश हुई. भोपाल में कुछ स्थानों पर बहुत छोटे आकार के पहले सबेरे और फिर दोपहर बाद ओले गिरे. जबकि प्रदेश में अधिकांश जगहों पर बादल छाए रहे और ठंडक बनी रही. शनिवार को हुई बारिश ने एक बार फिर फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया है. इससे चने,तेओड़ा और मशूर की फसलों को जबर्दस्त नुकसान पहुंचा है, जबकि ओलों ने खेतों मेंं गेहूं की खडी फसल को बर्बाद कर दिया है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *