RBI गवर्नर का इस्तीफा मांगने कांग्रेस का धरना

नई दिल्ली,भोपाल,कांग्रेस ने नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय रिजर्व बैंक पर जम कर निशाना साधा उसने देश भर के 33 स्थानों पर धरना-प्रदर्शन कर आरबीआई अधिकारियों का घेराव किया. कांग्रेसी गवर्नर उर्जित पटेल का इस्तीफा मांग रहे थे. उन्होंने कहा कि पीएम और गवर्नर को देशवासियों से माफी मांगनी होगी अन्यथा पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा . इधर,राजधानी भोपाल स्थित आरबीआई मुख्यालय के समक्ष लगभग 3 हजार कांग्रेसजनों ने धरना-प्रदर्शन कर आईबीआई प्रबंधक को ज्ञापन सौंपा तथा गिरफ्तारी दीं. धरना प्रदर्शन में महासचिव मुकुल वासनिक और पूर्व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू, सचिव राकेश कालिया, सज्जनसिंह वर्मा, प्रदेश कांग्रस अध्यक्ष अरूण यादव, व विधायकगण उपस्थित थे
वासनिक ने कहा कि मुद्रा से संबंधित नीति में आरबीआई की भूमिका अहम होती है, सरकार मुद्रा को लेकर कोई फैसला नहीं कर सकती, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी का फैसला लेकर आर्थिक आपातकाल की स्थिति पैदा की, जिसका खामियाजा देश की गरीब-मध्यमवर्गीय जनता को भुगतना पड़ रहा है.उन्होंने देश में वित्तीय आपातकाल का माहौल बताते हुए गवर्नर उर्जित पटेल का इस्तीफा मांगा.
पूर्व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी के बाद जनता से 50 दिन मांगे थे, वे पूरे हो गये है जनता को कोई राहत नहीं मिली, बल्कि आने वाले दिनों में इसका नुकसान और भयाक्रांत रूप हमारे सामने आयेगा. 68 दिनों बाद स्थिति ज्यों की त्यों हैं. आमजनता का जीना मुहाल हो गया है.
कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सै. साजिद अली (एड.), महामंत्री चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी, जगदीश यादव, ओम रघुवंशी, वीरसिंह यादव, डॉ. शशि राजपूत, मुजीव कुरैशी, मांडवी चौहान, कैलाश मिश्रा, सै. साजिद अली, जितेन्द्रसिंह बघेल, दीपचंद यादव, के.के. मिश्रा, जे.पी. धनोपिया, रवि सक्सेना, दुर्गेश शर्मा, मो. सगीर सहित हजारों की संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *