मां ने चिता सजा बच्चों के साथ किया आत्मदाह

सतना,जिले के मैहर थाना क्षेत्र के पहाड़ी गांव में एक महिला ने कमरे में बाकायदा लकडिय़ों की चिता सजाकर अपने मासूम बेटे-बेटी के साथ स्वयं को आग के हवाले कर दिया, जिससे तीनों की मौके पर मौत हो गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर घटना से संबंधित सभी पक्षों को ध्यान में रखते हुए जांच शुरु कर दी है.
मिली जानकरी के अनुसार जिले के मैहर थाना क्षेत्र के पहाड़ी गांव में रहने वाली विंध्येश्वरी गौतम पत्नी कमलाकांत उम्र तकरीबन 35 वर्ष ने मंगलवार की दोपहर अपने 10 वर्षीय पुत्र विवेक व 5 साल की पुत्री श्रृष्टिï को कमरे में बंद करते हुए आग लगा ली. आग लगते ही जब बच्चे चीख पुकार मचाने लगे तो आस-पास के लोग दौड़ कर घटना स्थल की ओर पहुंचे. कमरे के अंदर से धुआं निकलता देख वहां पर मौजूद लोगों ने तत्काल घटना की सूचना डायल 100 व दमकल को दी. बताया गया कि जानकारी मिलने पर तकरीबन आधे घंटे बाद मैहर नगर पालिका का दमकल वाहन मौके पर पहुंच गया. काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाते हुए जब अमला दरवाजा तोड़ कर कमरे में दाखिल हुआ तो वहां का नजारा देख कर अचंभित रह गया. कमरे में तीनों लोग बुरी तरह जली हुई हालत में पाए गए. आनन-फानन में तीनों को मैहर स्थित सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां पर चिकित्सकों द्वारा उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.
महिला का अपने बच्चों के साथ आग लगा कर जाने देने की घटना के पीछे के कारण फिलहाल स्पष्टï नहीं हो सके हैं लेकिन सूत्रों के अनुसार घरेलू कलह इसकी एक वजह हो सकती है. हलांकि थाना पुलिस द्वारा घटना स्थल का बारीकी से मुआयना किया गया, लेकिन बताया गया कि इस मामले में छानबीन पूरी हो जाने के बाद ही पुलिस कुछ बता पाने की स्थिति में होगी. शवों का निकालने के बाद कमरे को पुलिस द्वारा सील कर दिया गया. बुधवार को फोरेंसिक प्रभारी डा. जेएस यादव घटना स्थल का मुआयना करेंगे जिससे जांच में तेजी और आने की संभावना है.
कमरे में सजी थी चिता
घटनास्थल से मिली जानकारी के अनुसार कमरे में लकडिय़ां रखकर बाकायदा चिता सजाई गई थी, साथ ही कमरे में गैस के दो सिलेंडर भी मौजूद थे. बताया गया कि मृतिका का पति गुजरात में काम करता है और कुछ दिनों पहले बच्चों के जन्मदिन में शामिल होने के लिए आया था. घटना वाले दिन वह मृतिका की बहन को वापस छोडऩे के लिए ससुराल गया हुआ था. मृतिका के घर में दो देवर व सास-ससुर भी हैं लेकिन बताया गया कि कुछ समय से वे अलग रह रहे हैं. जिसके चलते घटना के समय किसी और के मौजूद न होने की बात कही जा रही है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *