ब्रिस्बेन में पाक की नजर 2019 पर होगी

दुबई, शुक्रवार से पाकिस्तान और आस्ट्रेलिया के बीच ब्रिसबेन में शुरू हो रही पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला की भिंड़त में पाक की नजरें आईसीसी विश्व कप-2019 के लिए सीधे क्वालीफाई करने पर टिकी होंगी.
पूर्व विश्व चैम्पियन पाकिस्तान पर फिलहाल ब्रिटेन में होने वाली 50 ओवर की आईसीसी की शीर्ष प्रतियोगिता में सीधे क्वालीफाई करने से वंचित रहने का खतरा मंडरा रहा है.
टीम अभी 89 अंक के साथ आठवें स्थान पर है. उसके बांग्लादेश से दो कम जबकि वेस्टइंडीज से दो अधिक अंक हैं. मेजबान इंग्लैंड और 30 सितंबर 2017 को आईसीसी एकदिवसीय टीम रैंकिंग में शीर्ष सात टीमें 30 मई से 15 जुलाई 2019 तक होने वाली प्रतियोगिता के लिए सीधे क्वालीफाई करेंगी. निचले पायदान पर रहने वाली चार टीमें और आईसीसी विश्व क्रिकेट लीग की छह टीमें इसके बाद 10 टीमों के आईसीसी क्रिकेट विश्व कप क्वालीफायर 2018 में हिस्सा लेंगी और इस टूर्नामेंट की शीर्ष दो टीमें विश्व कप की 10 टीमों को पूरा करेंगी. पाकिस्तान को सीरीज से पूर्व की अपनी रैंकिंग बरकरार रखने के लिए कम से कम एक मैच जीतना होगा जबकि एक से अधिक जीत पर उसे महत्वपूर्ण अंक मिलेंगे. पाकिस्तान अगर दो मैच जीतता है तो उसके बांग्लादेश के बराबर 91 अंक हो जाएंगे लेकिन दशमलव अंक तक गणना पर वह पीछे रहेगा. पाक अगर श्रृंखला में जीत दर्ज करता है तो बांग्लादेश को पीछे छोड़ देगा और उसके विश्व कप में सीधे क्वालीफाई करने की संभावना भी बढ़ जाएंगी.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *