पेट्रोल- डीजल फिर महंगा,रसोई गैस का दाम भी बढ़ा

नई दिल्ली, नए साल की शुरुआत महंगाई के साथ हुई है. पहले ही दिन महंगाई का तडक़ा लगाते हुए
पेट्रोल के दाम में एक रूपए उन्नतीस पैसे और डीजल के दाम में सत्तानवे पैसे की बढ़ोतरी कर दी गई है.
पेट्रोल और डीजल के बढ़े हुए दाम एक जनवरी और दो जनवरी की आधी रात से लागू की गई है. पेट्रोलियम कंपनियों ने ये समीक्षा बैठक के बाद लिया जो माह में दो बार की जाती है. इसके पीछे जो कारण बताया गया है,उसमें कहा गया है कि दुनिया के बाजार में कच्चे तेल की कीमतें बढऩे से एैसा किया गया है.
इससे पहले पिछले महीने 16 दिसंबर को पेट्रोल की कीमत में 2.21 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दाम में 1.79 रुपए प्रति लीटर बढ़ोत्तरी की गई थी. उधर,विमान ईंधन के दामों में 8.6 प्रतिशत की भारी बढ़ोतरी की गई है जबकि सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर के दाम दो रुपये बढ़ाए गए हैं. यह सात महीने में एलपीजी कीमतों में आठवीं वृद्धि है.
दिल्ली में एटीएफ के दाम 4,161 रुपये प्रति किलोलीटर या 8.6 प्रतिशत बढ़ाकर 52,540.63 रुपये प्रति किलोलीटर किए गए हैं. इससे पिछले महीने विमान ईंधन के दाम 3.7 प्रतिशत घटाए गए थे. सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों के अनुसार इसी तरह सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम के रसोई गैस सिलेंडर का दाम दो रुपये बढ़ाकर 432.71 से 434.71 रुपये किया गया है. यह जुलाई से रसोई गैस सिलेंडर कीमतों में आठवीं वृद्धि है. उस समय सरकर ने सब्सिडी को समाप्त करने के लिए सब्सिडी वाले सिलेंडर के दाम में हर महीने दो रुपये की बढ़ोतरी का फैसला किया था.
एक दिसंबर को एलपीजी के दाम 2.07 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाए गए थे. मिट्टी के तेल के मामले में सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों को 10 महीने तक प्रत्येक पखवाड़े 25 पैसे लीटर वृद्धि की अनुमति दी है. जुलाई से केरोसिन कीमतो में यह दसवीं वृद्धि है. बाजार मूल्य पर बिकने वाले यानी बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर का दाम एक रुपये बढ़ाकर 585 रुपये किया गया है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *