गुजरात में 21 और 28 फरवरी को दो चरणों में कराये जायेंगे स्थानीय निकाय के चुनाव

गांधीनगर, गुजरात में नगर निगम, नगर पालिका, तहसील और जिला पंचायतों के चुनाव का आज ऐलान कर दिया गया। राज्य चुनाव आयोग ने दो चरणों में स्थानीय निकायों के चुनाव कराने के फैसला किया है। साथ ही दो चरणों में मतगणना का ऐलान किया है। गुजरात के निर्वाचन अधिकारी संजय प्रसाद ने पत्रकार परिषद में बताया कि 21 फरवरी 2021 को राज्य के 6 नगर निगमों में मतदान और 23 फरवरी को मतगणना होगी। जबकि 31 जिला पंचायत, 231 तहसील पंचायत और 81 नगर पालिकाओं में 28 फरवरी को मतदान होगा और मतगणना 2 फरवरी 2021 को होगी। राज्य की सभी 6 महानगर पालिका के चुनाव के लिए 1 फरवरी 2021 को अधिसूचना जारी की जाएगी। 6 फरवरी तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा सकेंगे। 8 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 9 फरवरी तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर और भावनगर महानगर पालिका में 21 फरवरी 2021 को सुबह 7 से 6 बजे तक मतदान होगा। यदि जरूरत हुई तो 22 फरवरी को पुनर्मतदान कराया जा सकता है। 23 फरवरी 2021 को सभी 6 महानगर पालिका में मतगणना की जाएगी। इन 6 नगर निगमों के 144 वार्ड की 576 सीटों पर होनेवाले चुनाव में 1.12 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। जिसके लिए एक चुनाव अधिकारी, 57 सहायक निर्वाचन अधिकारी 1140077 मतदान केन्द्रों की व्यवस्था की जाएगी| इनमें 3858 संवेदनशील मतदान केन्द्र भी शामिल हैं। वहीं 81 नगर पालिका, 31 जिला पंचायत और 231 तहसील पंचायतों के चुनाव के लिए 8 फरवरी को अधिसूचना जारी की जाएगी। 13 फरवरी तक पर्चे दाखिल किए जाएंगे और 15 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी। नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 16 फरवरी तय की गई है 28 फरवरी को नगर पालिका, जिला व तहसील पंचायतों में सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगा। आवश्यकता हुई तो 1 मार्च को पुनर्मतदान होगा और 2 मार्च को मतगणना की जाएगी। राज्य निर्वाचन अधिकारी बताया कि 5 जनवरी को नई मतदाता सूची जारी की गई थी। चुनाव के आयोजन को लेकर सीमांकन और क्षेत्र आरक्षण के बारे में वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सभी जिला कलेक्टर से चर्चा की गई है। महानगर पालिका आयुक्तों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कॉओर्डिनेशन किया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोना की स्थिति को देखते हुए स्थानीय निकायों के चुनाव दो चरणों में कराने का फैसला किया गया है। कोरोना संकट के बीच हो रहे स्थानीय चुनावों को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग जल्द ही एसओपी जारी करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *