भोपाल की सड़कें हुई सूनसान,सड़कों पर सिर्फ दिखाई दी पुलिस

भोपाल, राजधानी में रविवार रात 12 बजे से टोटल लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है। शहर में केवल दूध डेरी और मेडिकल सेवाओं को छूट दी गई है। इस आदेश के बाद सोमवार को सड़कों पर सिर्फ पुलिस नजर आई। किसी भी तरह आमजन को सड़कों पर नहीं निकलने दिया गया। ऐसे में बेवजह घूमते मिलने वालो के खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है। राजधानी की सड़कों को पिछले दिनों के मुकाबले सोमवार को सर्वाधिक सूना देखा गया। आला अधिकारियो का सख्त आदेश हैं, कि किसी हाल लोगों को अपने इलाको के साथ ही रोड पर एकत्र नहीं होने दिया जाएगा। दूध आदी की जरूरी सामान खरीददारी के लिए भी पैदल और परिवार के

भोपाल में सोमवार से कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर पूरे शहर को लॉकडाउन किया गया। इस दौरान शहर में तैनात पुलिसकर्मियों को सेनिटाईजर करने के लिए मशीन लगायी गई।

एक सदस्य को निकलने दिया जा रहा है। वही भोपाल के तमाम पेट्रोल पंप को अल्टरनेट डे (एक दिन बीच) खोलने के आदेश जारी किए जा चुके हैं। जनसेवा के लिये शहर में चल रहे सभी सार्वजनिक किचन को बंद करा दिया गया है। गरीब बेसहराओं को खाना बांटने की सारी जिम्मेदारी प्रशासन ने अपने हाथ ले ली है। वही पुलिस के गश्ती वाहन डीएम के आदेश अनुसार घरों में रहने की अपील हर गली मोहल्ले में कर रहे हैं। पुलिस के सभी आला अधिकारी सहित सारे थानों का स्टॉफ सड़कों पर है। कंट्रोल रूम का रिजर्व फोर्स भी पूरी तरह से सड़कों पर तैनात है। समझाइश और ओर आदेश के बाद भी अब जो सड़कों पर नजर आ रहा है, उसके खिलाफ सीधा प्रकरण दर्ज कर जेल भेजने का काम पुलिस कर रही है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *