कनिका कपूर को कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद अस्पताल से मिली छुट्टी

लखनऊ, कोरोना वायरस से पीड़ित बालीवुड की मशहूर गायिका कनिका कपूर की दो रिपोर्ट लगातार निगेटिव आने के बाद सोमवार सुबह उन्हें राजधानी के संजय गांधी आर्युविज्ञान संस्थान (एसजी पीजीआई) से छुटटी दे दी गयी है। हालांकि कोरोना वायरस गायिका के पीजीआई से डिस्चार्ज होने के बाद भी उनकी मुश्किले कम नही हुई है क्योंकि उनका आइसोलेशन समय समाप्त होने के बाद पुलिस उनके खिलाफ दर्ज मामलो में उनसे पूछतांछ कर सकती है।
संजय गांधी पीजीआई के निदेशक डा. आरके धीमान के मुताबिक दो दिन पहले कनिका कपूर की रिपोर्ट निगेटिव आयी थी। रविवार शाम एक बार फिर उनकी रिपोर्ट निगेटिव आयी उसके बाद सोमवार सुबह उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया और अब वह पूरी तरह से स्वस्थ है लेकिन उन्हें अभी कुछ दिन विशेष सावधानी बरतनी पड़ेगी और अपना बहुत ख्याल रखना पड़ेगा। कनिका कपूर का अभी अपने घर पर 14 दिन अपने घर पर आइसोलेशन में रहना पड़ेगा। कनिका की लगातार चार रिपोर्ट्स कोरोना पॉजिटिव आई थीं। पांचवीं के बाद कनिका कपूर की अब छठी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है, इसलिए उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है।
वहीं अस्पताल से छु्ट्टी मिलने के बाद कनिका की परेशानी और बढ़ने की संभावना है। कोरोनो वायरस से संक्रमित होने के बाद शहर में विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने को लेकर और लापरवाही बरतने के आरोप में कनिका के खिलाफ शहर के सरोजनी नगर पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है। यह प्राथमिकी लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर दर्ज की गई थी। वह देश की पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी हैं, जिन्हें यह घातक संक्रमण हुआ था। कनिका के आइसोलेशन के बाद लखनऊ पुलिस उनसे पूछताछ कर सकती है।
विदित हो कि कनिका 10 मार्च को एयर इंडिया के विमान से लंदन से मुंबई आई थी उसके बाद वह 11 को लखनऊ आई थी और कपूर ने लखनऊ व कानपुर समेत अन्य जगहों पर न सिर्फ पार्टियों में हिस्सा लिया था, बल्कि कई राजनीतिक व अन्य हस्तियों के काफी करीब भी पहुंच गयीं थीं। 20 मार्च को केजीएमयू की जांच रिपोर्ट आने के बाद लखनऊ समेंत देशभर में हड़कंप मच गया था। सैकड़ों लोगों के संपर्क में आ चुकी कनिका कपूर के चलते हर कोई कोरोना वायरस की दहशत में आ गया था। कनिका ने गत 13, 14 और 15 मार्च को होली से जुड़ी दो-तीन पार्टियों में शिरकत की थी। वे छोटे आयोजन थे और कुल मिलाकर कर इनमें 250 से 300 लोगों ने शिरकत की थी। कनिका की शिरकत वाली पार्टियों में अनेक राजनेता और अधिकारी भी शामिल हुए, जिनमें उत्तर प्रदेश के कुछ मंत्री भी थे लेकिन बाद में सभी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आयी थी। कनिका की पाजीटिव रिपोर्ट आने के बाद उन्हें संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया था जहां डाक्टरों की विशेष टीम उनकी देखभाल कर रही थी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *