महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से गई तीसरी जान

मुंबई,महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते मुंबई में अब तक तीन लोगों की जान जा चुकी है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद बीमारी से उबर चुके फिलीपींस के 68 वर्षीय व्यक्ति की मुंबई के एक अस्पताल में मौत हो गई। बीएमसी की ओर से सोमवार को इस बारे में जानकारी दी गई है। यह कोरोना वायरस से संबंधित महाराष्ट्र में तीसरी मौत है। वहीं देश भर में कोरोना के संक्रमण के कारण जान गंवाने वालों की कुल संख्या 8 हो गई है। बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने एक बयान में बताया कि व्यक्ति शुरु में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था और उसका यहां कस्तूरबा अस्पताल में उपचार किया गया। उसकी जांच रिपोर्ट का नतीजा नकारात्मक आने के बाद उसे एक निजी अस्पताल में भेज दिया गया था। उसने बताया कि व्यक्ति की रविवार रात को निजी अस्पताल में मौत हो गई।
अधिकारियों ने कहा कि इस व्यक्ति को मधुमेह और अस्थमा की शिकायत थी और उसे 13 मार्च को कस्तूरबा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसके गुर्दे खराब हो गए थे और सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। इससे पहले रविवार को मुंबई में एक शख्स की मौत की पुष्टि हुई थी। रविवार को जान गंवाने वाले शख्स तो तबीयत बिगड़ने पर 19 मार्च को मुंबई के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया गया था। 19 मार्च को अस्पताल में भर्ती कराए गए इस मरीज को डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर और हृदय रोग की परेशानी भी थी। 19 मार्च से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी और 21 मार्च की रात करीब 11 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। इससे पहले 16 मार्च को भी कोरोना वायरस से संक्रमण के बाद एक शख्स की कस्तूरबा गांधी अस्पताल में मौत हो गई थी। इस बीच महाराष्ट्र में सबसे अधिक 89 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इसके अलावा 3 की मौत भी हो गई है। इसी के चलते पूरे महाराष्ट्र में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 15 नए मामले सामने के बाद राज्य में इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 89 हो गई है। महाराष्ट्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि मुंबई में भीड़ को इकट्ठा ना होने देने के लिए कई स्थानों पर चेक पॉइंट्स बनाए जा रहे हैं। कोरोना वायरस अब तक कम्युनिटी स्प्रेड फेज में नहीं पहुंचा है और लोगों को पूरी एहतियात बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पुलिस भीड़ को नियंत्रित करने के लिए धारा 144 के तहत कार्रवाई भी कर सकती है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *