निर्भया गैंगरेप केस के दोषियों को कल दी जाएगी फांसी, परिजनों ने तिहाड़ में की अंतिम भेंट

नई दिल्ली, निर्भया गैंगरेप केस के गुनहगारों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे फांसी के तख्ते पर लटका दिया जाएगा। इससे पहले निर्भया के तीन दोषियों से उनके परिजनों ने अंतिम भेंट की है। इस दौरान दोषियों के परिजन बंद कमरे में मिले। हालांकि एक और दोषी अक्षय के परिवार वाले अभी उससे मिलने नहीं आए हैं। अक्षय की पत्नी और उसके माता-पिता को मिलने के लिए बुलाया गया है। अक्षय की पत्नी बिहार के औरंगाबाद के एक फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी भी दाखिल कर चुकी है। तिहाड़ जेल के एक सूत्र ने बताया कि पवन गुप्ता और विनय शर्मा के परिवारवाले 29 फरवरी को मुलाकात कर चुके हैं। परिजनों दोषियों से मुलाकात के दौरान एक-दूसरे से गले मिले। मुलाकात के दौरान दोनों दोषी फूट-फूटकर रोने लगे। इस दौरान जेल के अधिकारियों ने उन्हें ढाढस बंधाया।
एक सूत्र ने बताया कि मुकेश सिंह से 2 मार्च को उसके परिजन मिले। मुलाकात के दौरान मुकेश गुमसुम रहा लेकिन बीच-बीच में उसके परिजन रो पड़ते थे। मुकेश मुलाकात के दौरान परिजनों को बताता था कि उसके अभी भी कुछ कानूनी विकल्प हैं। बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को मुकेश की उस याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें उसने कहा था कि निर्भया गैंगरेप के दौरान वह दिल्ली में नहीं था। अंतिम मुलाकात के बाद भी सभी दोषियों को परिजनों को सप्ताहिक मुलाकात की भी इजाजत है। लेकिन इस दौरान अकेले मिलने की इजाजत नहीं है। अक्षय ठाकुर ने तिहाड़ के अधिकारियों को बताया था कि उसके परिवार वाले बुधवार को उससे मिलेंगे। एक अधिकारी ने बताया कि पत्नी के तलाक की अर्जी फाइल करने के बाद अब उसने अपने परिजनों से मिलने की उम्मीद छोड़ दी है।
अक्षय की पत्नी पुनीता देवी (29) ने औरंगाबाद में एक फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी दी है। पुनीता ने कोर्ट से कहा कि वह अक्षय की विधवा बनकर नहीं जीना चाहती है। एक अधिकारी ने बताया, ‘हमने अक्षय को उसकी पत्नी से फोन पर बात कराई। उसके बाद अक्षय ने दावा किया कि उसकी पत्नी बुधवार को मिलने आएगी।’ तिहाड़ में निर्भया को दोषियों की फांसी की तैयारी पूरी की जा रही है। दोषियों को डमी को फांसी पर लटकाने का रिर्हसल भी किया गया है। अधिकारी सभी दोषियों के हेल्थ पर नजर रखे हुए हैं। किसी प्रकार की घटना को दोषियों के काल कोठरी के बाहर अतिरिक्त कर्मचारियों की तैनाती की गई है। निर्भया गैंगरेप केस का 5वां आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल के अंदर खुदकुशी कर ली थी जबकि एक अन्य नाबालिग आरोपी सजा के बाद रिहा हो चुका है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *