आईपीएल को कोरोना वायरस के कारण 15 अप्रैल तक टाला गया

मुम्बई, कोरोना वायरस के कारण अब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन को आगे बढ़ा दिया गया है। अब यह 29 मार्च की जगह 15 अप्रैल से शुरु होगा। बीसीसीआई पहले मौजूदा तारीख 29 मार्च से ही इस टूर्नमेंट की शुरुआत करने पर कायम था पर टीम मालिकों और प्रसारकों के दबाव के सामने उसे झुकना पड़ा। ये लोग खाली स्टेडियम में लीग के आयोजन के लिए तैयार नहीं हुए। इसके अलावा सरकार ने 15 अप्रैल तक वीजा पर रोक लगा रखी है और ऐसे में तय समय पर शुरु होने से विदेशी खिलाड़ी इसमें शामिल नहीं हो पाते। इसके बाद बीसीसीआई अधिकारियों ने फैसला लिया है कि इस टूर्नामेंट को करीब दो सप्ताह के लिए आगे टाल देना ही बेहतर रहेगा। बीसीसीआई को उम्मीद है कि तब तक हालात बेहतर हो सकते हैं। अब शनिवार को आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद बीसीसीआई कार्यक्रम में बदलाव की अधिकारिक पुष्टि करेगा।
अब आईपीएल का नया कार्यक्रम जारी होगा तो उसमें डबल हेडर (एक दिन में दो मैच) मुकाबलों की संख्या अधिक होगी। इससे पहले इस बार आईपीएल में डबल हेडर मुकाबलों की संख्या कम की गई थी लेकिन इस बदलाव के बाद शुरुआती दो सप्ताह में ही आईपीएल के जो मैच होने थे उनकी भरपाई के लिए अब 15 अप्रैल के बाद सप्ताह में दो या तीन दिन डबल हेडर मैचों का आयेजन कर इनकी भरपाई की जाएगी। इससे पहले दिल्ली सरकार ने भी आज साफ कर दिया था कि कोरोना वायरस के कारण दिल्ली में आईपीएल के मैच नहीं होंगे। वहीं बंगाल क्रिकेट बोर्ड (कैब) ने भी कहा था कि मैचों का आयोजन खाली स्टेडियम में होगा। ऐसे में बीसीसीआई के पास इसे आगे बढ़ाने के अलावा कोई और चारा नहीं था। इससे पहले खेल मंत्री किरण रिजीजू ने गुरुवार को सभी खेल संगठनों से कहा था कि वह अपने आयोजनों को टाल दें। वहीं केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए आईपीएल क्रिकेट को भी स्थगित कर दिया जाना चाहिये

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *