नॉर्दर्न अंटार्कटिका में अब तक का सबसे ज्यादा तापमान रिकॉर्ड किया गया

नई दिल्ली, चारों तरफ बर्फ से घिरा अंटार्कटिका उपद्वीप अब तेजी से गर्म हो रहा है, यही वजह है कि यहां रिकॉर्ड तापमान दर्ज किया गया है। नॉर्दर्न अंटार्कटिका में अब तक का सबसे ज्यादा तापमान 18.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अंटार्कटिका को स्नो, आइस और पेंगुइन के लिए जाना जाता है। एक अर्जेंटाइन रिसर्च बेस, ऐस्परेंजा पर गुरुवार को यह तापमान रिकॉर्ड किया गया। लेकिन अभी वर्ल्ड मीटरोलॉजिकल ऑर्गनाइजेशन द्वारा इस रीडिंग को वेरिफाई किया जाना बाकी है। ऑर्गनाइजेशन के लिए रिकॉर्ड होने वाले तापमान की रिसर्च करने वाले रैनडैल केरवैनी ने कहा, ‘अभी तक हमने जो देखा है, उससे संकेत मिलते हैं कि यह रिकॉर्ड वैध है। उन्होंने बताया कि इस रीडिंग की पुष्टि करने के लिए वह पूरे डेटा को आने का इंतजार कर रहे हैं।
ऐस्परेंजा पर वैज्ञानिकों ने कहा कि यह इकलौता रिकॉर्ड नहीं है जो इस हफ्ते टूटा है। अंटार्कटिका के मारांबियो साइट पर फरवरी 1971 के बाद से सबसे ज्यादा तापमान रजिस्टर किया गया। थर्मोमीटर्स ने 14.1 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड किया जो कि फरवरी 2013 से ज्यादा है। जानकार फ्रीडा बेंग्ट्सन ने कहा, ये रिपॉर्ट्स बहुत खौफनाक हैं, लेकिन चौंका देने वाली हैं। हम पिछले एक महीने से अंटार्कटिक में हैं और नाटकीय बदलाव को नोट कर रहे हैं। पिछले महीने हमने पेंगुइन कॉलोनियों में खासी कमी देखी। इसकी वजह इसके मूल पर्यावरण में क्लाइमेट बदलाव का होना है। बता दें कि अंटार्कटिका पृथ्वी पर मौजूद सबसे तेजी से गर्म हो रहे क्षेत्रों में से एक है। अंटार्कटिक उपद्वीप तेजी से गर्म हो रहा है। पिछले 50 सालों में इस उपद्वीप का औसत तापमान करीब 3 डिग्री सेल्सियस बढ़ा है। इससे पहले 2015 में 17.5 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड किया गया था।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *