नाले मे बही लापता तनिष्का का शव बरामद, पेंट ओर एटीएम कार्ड से की गई पहचान

भोपाल, इंदौर-भोपाल हाईवे पर ग्राम जताखेड़ा के पास हुए हादसे के पांचवे दिन लापता तनिष्का का शव रेस्क्यू कर रही टीम ने ग्रामीणो से मिली सूचना के बाद बरामद कर लिया। गोरतलब हे की बीते दिन लापता तनिष्का का कोट ओर एक जूता बरामद हुआ था। जिसके बाद एसडीआरएफ के एडीजी सागर ने बताया था की तनिष्का को ग्रामीणो ने बहते हुए देखा था, ओर जिस नाले मे तनिष्का बही है वो नाला आगे जाकर पार्वती नाले मे मिला है, ओर संभव है की तनिष्का नदी तक बही हो, ओर उसकी तलाश मे रेस्क्यू आगे भी जारी रहेगा। गोरतलब है की स्थानीय होमगार्ड के तैराकों के साथ एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दल ने नाले में बही भोपाल निवासी महिला तनिष्का तलरेजा पिल्लई की लगातार तलाश मे जुटे थे। इसी बीच गुरुवार दोपहर के समय नजीराबाद थाना इलाके के पीपाखेडी मे रहने वाले ग्रामीणो ने पुलिस को सुचना देते हुए बताया की पार्वती नदी मे अज्ञात महिला की लाश पडी है, जो संभवत पानी मे बहकर यहॉ आयी होगी। इसके बाद पहुंची पुलिस ने शव को बरामद कर इसकी संदेह के आधार पर सूचना तनिष्का को तलाश कर रही रेस्क्यू टीम के अधिकारियो सहित उसकी तलाश् मे जुटी थाना पुलिस को दी। सुचना पाकर पहुंची पुलिस ओर परिवार वालो ने शुरुआत मे महिला द्वारा पहनी गईं पेंट के आधार पर उसकी पहचान पानी मे बह गईं लापता तनिष्का के रुप मे की। पुलिस ने बताया की पांच दिन पानी मे रहने के कारण महिला का शव बहुत बुरी हालत मे बरामद हुआ है, ओर उसका चेहरा बुरी तरह बिगड गया है। बाद मे मृतका की पेंट से बरामद एटीएम कार्ड से उसकी पहचान तनिष्का के रुप मे पुलिस ने भी कर ली। गोरतलब है की सोमवार की सुबह भोपाल के जीवन मोटर्स नेक्सा के कर्मचारी नसीम खान, संयोग प्रताप सिंह जादौन, तनिष्का तलरेजा पिल्लई, अजय आचार्य और फरहान खान कार से इंदौर कंपनी के प्रशिक्षण में शामिल होने जा रहे थे। तभी उनकी कार भोपाल-इंदौर हाईवे पर ग्राम जताखेड़ा के पास अनियंत्रित होकर पुलिया से टकराने के बाद नाले में गिर गई थी। इस हादसे में कार में सवार तनिष्का पिल्लई सहित अजय आचार्य, फरहान खान पानी के तेज बहाव में बह गए। वहीं नसीम खान और संयोग प्रताप सिंह कार में फंसे रहे। सुबह वहां से गुजरने वाले ग्रामीणों को नाले में कार दिखी, जिसकी सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और क्रेन से कार को बाहर निकाला था। नाले के पानी का बहाव इतना तेज था कि कार सवार अजय आचार्य और फरहान खान का शव करीब एक कि मी दूर मिला था, वहीं तनिष्का की तलाश करने के लिए होमगार्ड के तैराकों के अलावा एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस ने महिला के शव को पीएम के लिये भेजते हुए आगे की कार्यवाही शुरु कर दी है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *