भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ किया प्रांतव्यापी “घंटानाद” आंदोलन दीं गिरफ्तारियां

भोपाल, भाजपा ने आज राज्य भर में कांग्रेस सरकार की वादाखिलाफी, किसान कर्जमाफी, युवा बेरोजगारी भत्ते , भारी वर्षा से नष्ट हुई फसलों की कोई सुध लेने , बिजली कटौती, कानून व्यवस्था सरीखे मामलों पर घंटानाद आंदोलन कर सरकार को जगाने का प्रयास किया, भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि सरकार सिर्फ भ्रष्टाचार और तबादलों में व्यस्त है। सभी जिलों में कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर कूच करते हुए घंटे, घड़ियाल, शंख, मंजीरा बजाते हुए कुंभकर्णी नींद में सोई सरकार को जगाने के लिए जबरदस्त प्रदर्शन किया। भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने स्वयं कार्यक्रम का नेतत्व किया। विदिशा में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, जबलपुर में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, सागर में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, इंदौर में श्रीमती सुमित्रा ताई महाजन, नंदकुमारसिंह चौहान, उज्जैन में विक्रम वर्मा, ग्वालियर में भूपेन्द्र सिंह सहित सभी जिलों में वरिष्ठ नेताओं ने आंदोलन की कमान संभाली।
भोपाल में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के नेतृत्व में महापौर आलोक शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, विधायक विश्वास सारंग, जिलाध्यक्ष विकास विरानी सहित हजारों कार्यकर्ताओं ने भोपाल कलेक्ट्रेट की ओर कूच किया। सरकार ने भारी पुलिस बल के दम पर आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया, लेकिन घंटा, घडियाल की जोरदार गूंज करते हुए कार्यकर्ताओं का उत्साह आसमान पर था। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने आगे बढ़कर स्वयं पुलिस का बैरिकेट तोड़ा तो उनके साथ-साथ भारी मात्रा में कार्यकर्ताओं ने भी बैरिकेट्स पर चढकर पुलिस के इंतजामों को धत्ता बताते हुए आगे कूच किया। बाद में पुलिस ने आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस सभी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की व्यवस्था नहीं कर सकी, क्योंकि वह सिर्फ दो बसें लेकर आंदोलन स्तर पर पहुंची थी। इससे साफ होता है कि सरकार को भी ऐसे प्रचंड आंदोलन का अनुमान नहीं था। गिरफ्तारी देते हुए प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार लोकतंत्र की हत्या करने पर आमादा है। यह सरकार विरोध में उठने वाली हर आवाज को दबाना चाहती है। लेकिन हम ना दबाव में आएंगे और ना रुकेंगे। विरोध का हमारा सिलसिला जारी रहेगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *