आरटीओ ऑफिस के रवैये से खफा बस ऑपरेटर्स 13 से रोक देंगे बसों के पहिये

जबलपुर, आरटीओ और जबलपुर बस ऑपरेटर्स एसोसिएशन के बीच 6 माह से चल रही तनातनी हड़ताल के मुहाने तक पहुंच गई है। बुधवार को कलेक्टर और एसपी को ज्ञापन सौंपने के बाद बस ऑपरेटर्स ने 13 सितंबर से हड़ताल का ऐलान किया है। बस ऑपरेटर्स ने आरटीओ कार्यालय में व्याप्त अनियमितताओं पर असंतोष जाहिर करते हुए हड़ताल का आव्हन किया है। वहीं बस ऑपरेटर्स के एक गुट ने हड़ताल का विरोध किया है। हड़ताल का विरोध करने वालों ने भी कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर यह बताया है कि वे हड़ताल के विरोध में हैं।
बस ऑपरेटर्स जबलपुर एसोशिएसन के अध्यक्ष पिंटू तिवारी ने बताया कि इन दिनों आरटीओ ऑफिस में लूट मची हुई है। ऑपरेटर्स आरटीओ की कार्यप्रणाली से आहत हैं। फिटनेस करवाना हो या फिर परमिट लेना हो बस ऑपरेटर्स के लिए आसान नहीं है। विभागों में तैनात कर्मचारी लम्बी-चौड़ी डिमांड करते हैं। बिना नजराने के कोई काम नहीं हो रहा है। इसकी शिकायत आरटीओ को भी की गई थी, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।
ये कर रहे विरोध
बरगी नगर से जबलपुर और बरगी नगर से गौर होते हुए जबलपुर के बीच बसों का संचालन करने वाले ऑपरेटर्स ने 13सितंबर को बुलाई गई हड़ताल का विरोध किया है। बस ऑपरेटर्स ने हड़ताल के दिन भी वाहन संचालित होने की बात कही है, वहीं बस ऑपरेटर्स ने हड़ताल के दौरान सुरक्षा प्रदान करने की मांग भी की है। बरगी नगर से बस सेवा संचालित करने वाले बस ऑपरेटर मो. इजराइल, हेमंत कुमार उपाध्याय, नवाब खान, सुरेश लाल, धनीराम, दिलीप यादव आदि ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर हड़ताल का विरोध किया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *