अमरीकी इनवेस्टर्स के लिए हॉट डेस्टीनेशन एमपी- भनोत

जबलपुर,अमेरिका के उद्योगपतियों के लिए मध्यप्रदेश निवेश के लिए सबसे बेहतर विकल्प है। यह बात अमेरिकी यात्रा से वापस आए वित्तमंत्री तरूण भनोत ने मंगलवार को सर्किट हाउस में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि वे अमेरिका गए थे, वहां उद्योगपतियों से चर्चा भी हुई। इस दौरान वहां के उद्योगपतियों ने प्रदेश में निवेश की इच्छा भी जाहिर की। इसके लिए अक्टूबर माह में इंदौर में एक दिवसीय इनवेस्टर मीट का आयोजन किया जा रहा है।
टूरिज्म में प्रवेश की संभावना
भनोत ने कहा कि प्रदेश में इन्वेस्ट के इच्छुक उद्योगपतियों के लिए सिंगल विंडो क्लीयरेंस की व्यवस्था की जाएगी, ताकि उद्योगपतियों को इनवेस्ट करने में आसानी हो। उन्होंने कहा कि प्रदेश के बदल रहे हालातों से निवेश करने वाले उद्योगपति आकर्षित हो रहे हैं। अमेरिका की कंपनी ने मेडिकल टूरिज्म पर निवेश करने की इच्छा जाहिर की है। प्रदेश में पैâली बेरोजगारी को लेकर सरकार चिंतित है, निवेश बढ़ने से काफी हद तक बेरोजगारी कंट्रोल करने में सफलता मिलेगी।
सड़क निर्माण में नहीं बर्दाश्त करेंगे गफलत
शहर की खस्ताहाल सड़कों के सवाल पर वित्तमंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने रोड निर्माण करने वाली कंपनियों के टेंडर जांच के आदेश जिम्मेदार विभागों को दिए हैं। जांच में यदि नियमों का उल्लंघन किया गया है तो दोषी को सजा भी दिलाई जाएगी और उससे जुर्माना भी वसूला जाएगा।
इस साल शुरू होगा काम
वित्तमंत्री ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि बजट का आबंटन किया जा चुका है। जबलपुर में विकास कार्यों को इसी वर्ष शुरू कर दिया जाएगा। सड़क, फ्लाई ओवर, विवि, स्वास्थ सेवाओं सहित तमाम योजनाओं पर काम वर्ष 2019 में ही शुरू कर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ खुद फ्लाई ओवर के काम का भूमिपूजन करने के लिए आएंगे। 9 किलोमीटर लम्बी नर्मदा रिवर फ्रंट पर भी जल्द काम शुरू होगा।
किसानों को मिलेगा पर्याप्त पानी
वित्तमंत्री ने कहा कि बरगी बांध की राइड बैक कैनाल से पानी का वितरण सुचारू किया जाएगा। अभी तक बरगी बांध से केवल ३५ प्रतिशत रकवे की सिचाई हो रही थी। सिंचाई का रकवा बढ़ाया जाएगा, ताकि किसानों को उत्पादन बढ़ाने में मदद मिल सके। बारिश के बाद भी नहरों से किसानों की मंशानुसार पानी छोड़ा जाएगा।
जिले में 10 शक्कर मिल लगेंगी
जबलपुर में निवेश के सवाल का जवाब देते हुए वित्तमंत्री ने कहा कि जिले में 10 शक्कर मिल लगाने की योजना है। इससे किसानों को फायदा होगा। अब जिले के गन्ना किसानों को गन्ना बेचने के लिए कहीं बाहर नहीं जाना पड़ेगा। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में मिल लगने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। वहीं किसान गन्ना उत्पादन कर अधिक लाभ अर्जित कर सकेंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *