मप्र कांग्रेस के अध्यक्ष को लेकर सिंधिया, नाथ और दिग्गी में टकराहट, कल आलाकमान से होगी तीनों नेताओं की भेंट

नई दिल्ली, मध्यप्रदेश में कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर मचे घमासान के बीच मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली पहुंच गए। हालांकि उनकी मुलाकात नहीं हो पाई। उन्होंने कहा भी उनकी तरफ से भेंट के लिए समय नहीं माँगा गया है । गौरतलब है कि पिछले दिनों नाथ ने दिल्ली में सोनिया को मप्र की स्थिति पर रिपोर्ट सौंपी थी। वर्तमान में राज्य की कांग्रेस ईकाई के अध्यक्ष मुख्यमंत्री कमलनाथ हैं जिनके स्थान पर ज्योतिरादित्य सिंधिया को इस पर पर नियुक्त करने की लगातार मांग उठ रही है। सिंधिया कैंप के समर्थकों का कहना है कि यदि उनके नेता को अध्यक्ष नहीं बनाया जाता है तो वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे। गौरतलब है कि सिंधिया को इस वर्ष होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष बनाया गया है।
फिर टकराहट
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने नई दिल्ली से बैठे-बैठे ही मप्र की सरकार पर निशाना साधा। सिंधिया ने सुबह 11 बजकर 23 मिनिट पर ट्वीट किया। जिसके जवाब में मुख्यमंत्री नाथ ने 12 बजकर 23 मिनिट पर ट्वीट कर सफाई दी।
मुस्तैदी से राहत कार्य – सिंधिया
ये अत्यंत चिंताजनक है कि मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश की वजह से कई जानें चली गईं। ईश्वर से प्रार्थना है कि वे दिवंगत आत्माओं को शान्ति प्रदान करें एवं शोकाकुल परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति दें। कई जि़लों में अभी भी हालात गंभीर बनी हुए हैं और बारिश की वजह से बहुत नुकसान हुआ है। सरकार से मेरा निवेदन है कि प्रभावित क्षेत्रों में पूरी मुस्तैदी से राहत-बचाव कार्य चलाए जाएं जिससे समय रहते स्थिति पर काबू पाया जा सके एवं प्रभावितों को सुरक्षा और सहारा मिल सके।
बचाव और रहत दोनों साथ-साथ- कमलनाथ
प्रदेश में विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश अनवरत जारी है,अगले कुछ घंटों में भी भारी बारिश की संभावना है,भारी बारिश के कारण नदी-नाले उफान पर है,भारी बारिश को देखते हुए पूरे प्रदेश में प्रशासन को पूर्व से ही निर्देश दिए गए हैं कि आपदा प्रबंधन के तहत जितने भी जलभराव वाले क्षेत्र हैं,भारी बारिश से जो भी जनहानि हुई है , दु:ख की इस घड़ी में सरकार प्रभावित परिवारों के साथ है। राहत व बचाव कार्य निरंतर जारी है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *