भारत को बर्ड फ्लू से मुक्त घोषित किया गया, अब तक मारे गए 83.5 लाख पक्षी

नई दिल्ली,विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन (ओआईई) ने भारत को पक्षियों में होने वाले घातक रोग एवियन इनफ्लूएंजा (एच5एन1) बर्ड फ्लू से मुक्त घोषित कर दिया है। पशुपालन विभाग के संयुक्त सचिव उपामन्यु बसु ने राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र भेज कर यह जानकारी दी। एवियन इनफ्लूएंजा के विषाणु मनुष्य को प्रभावित करता है। कई बार गंभीर रूप से पीड़ित होने पर मौत भी हो जाती है। इससे पीड़ित होने पर श्वसन प्रणाली प्रभावित होती है। प्रारंभ में सर्दी-खांसी और बुखार इसके लक्षण हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसको लेकर चेतावनी जारी की हुई है। वर्ष 2017 से यह बीमारी गुजरात, ओडिशा, दमन दीव, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड में छिटपुट रूप से फैली थी। वर्ष 2018 के दिसम्बर में यह बीमारी ओडिशा में 9 स्थानों पर तथा बिहार में 3 स्थानों पर फैली थी। देश में पहली बार एवियन इनफ्लूएंजा वर्ष 2006 में फरवरी से अप्रैल के दौरान महाराष्ट्र में 28 स्थानों पर तथा गुजरात में एक स्थान पर फैली थी। इस दौरान करीब 10 लाख पक्षियों को मारा गया था और 2.7 करोड़ रुपए का मुआवजा दिया गया था। देश में अब तक 49 बार अलग-अलग राज्यों में 225 स्थानों पर यह बीमारी फैली है जिसमें करीब 83.5 लाख पक्षियों को मारा गया है और इसके लिए 26 करोड़ रुपए से अधिक की मुआवजा राशि दी गई है। देश में पहली बार 2017 में दिल्ली, मध्य प्रदेश, केरल, कर्नाटक, पंजाब और हरियाणा में प्रवासी पक्षियों एवं कुक्कुट में एक नया वासरस एच5एन8 की सूचना मिली थी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *