नर्स की समझदारी ने अस्पताल में आग लगने पर बचा लीं 9 नवजात शिशुओं की जान

नागपुर, महाराष्ट्र के नागपुर स्थित एक अस्पताल में लगी आग में समझदारी दिखाते हुए नर्स ने एक बड़ा हादसा टाल दिया। इतना ही नहीं अपनी सूझबूझ से नर्स ने 9 नवजात शिशुओं की जान भी बचा ली। जानकारी के अनुसार, शहर के इंदिरा गांधी गवर्नमेंट कॉलेज ऐंड हॉस्पिटल में शुक्रवार की रात आग लग गई। इस दौरान 47 वर्षीय नर्स ने जंबो ऑक्सिजन सिलेंडर को बंद कर अस्पताल में बड़ा नुकसान होने से बचा लिया।अस्पताल में कार्यरत 47 वर्षीय नर्स सविता इखर शुक्रवार रात नाईट ड्यूटी में थीं। वह पोस्ट बर्थ यूनिट में अकेले तैनाती दे रहीं थीं कि तभी शॉर्ट सर्किट की वजह से अस्पताल में आग लग गई और तेजी से धुआं भरने लगा। इस दौरान सविता ने तुरंत समझदारी दिखाते हुए सबसे पहले सभी नवजात शिशुओं को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया। यही नहीं उस आपातकालीन स्थिति में भी उन्होंने बच्चों की पहचान के लिए लगे टैग भी उन पर लगाए ताकि बाद में उन बच्चों की पहचान को लेकर समस्या न खड़ी हो। इसके बाद सविता ने जंबो ऑक्सिजन सिलिंडर को बंद कर दिया। इससे अस्पताल को आग से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। सविता ने बताया कि रात की शिफ्ट के दौरान शॉर्ट सर्किट से अस्पताल में आग लग गई। इसके बाद उन्होंने सबसे पहले नवजात बच्चों को उनके टैग के साथ सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया। उन्होंने बताया कि अस्पताल में फायर अलार्म नहीं था और आग से बचाव के उपकरण भी मौजूद नहीं थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *