झारखंड हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार का निधन

रांची, झारखंड उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार का शुक्रवार को सुबह पांच बजकर 16 मिनट पर निधन हो गया। न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार ने आज सुबह रांची के मेडिका अस्पताल में आखिरी सांसें ली।
न्यायाधीश प्रशांत कुमार के निधन की खबर मिलते ही न्यायविदों में शोक की लहर दौड़ गयी। जस्टिस प्रशांत कुमार 61वर्ष के थे, उनका जन्म एक जुलाई 1958 को हुआ था, उनकी प्रारंभिक शिक्षा बिहार के छपरा जिले में हुई। उन्होंने बनारस के उदय प्रताप सिंह कॉलेज से विज्ञान में स्नातक किया। एक अक्टूबर 1980 को एक अधिवक्ता के रूप में वे बिहार राज्य बार काउंसिल से जुड़े। उन्होंने वकील के तौर पर पटना हाईकोर्ट में लंबे समय तक प्रैक्टिस की। वे पटना हाईकोर्ट के रांची बेंच में 1980 से 1991 तक संवैधानिक और सेवाओं से जुडत्रे मामले देखते रहे। 6 मई 1991 को प्रशांत कुमार एडीजे के तौर पर न्यायिक सेवा में दाखिल हुए। इसके बाद उन्हें जून 2001 में जिला जज के रूप में प्रोन्नत किया गया। 21 जनवरी 2009 को झारखंड उच्च न्यायालय में वे अतिरिक्त जज के रूप में पदस्थापित हुए। 19 मई 2016 को उनका तबादला इलाहाबाद हाईकोर्ट में किया गया। 10 मई 2019 को इलाहाबाद हाईकोर्ट से स्थानांतरित होकर उन्होंने झारखंड उच्च न्यायालय में जज के रूप में शपथ ली। 7 जून 2019 से अब तक वे कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के तौर पर कार्यरत रहे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *