महाराष्ट्र के धुले में कंटेनर से भिडऩे के बाद बस के परखच्चे उड़े 13 की मौके पर ही मौत

धुले, महाराष्ट्र के धुले में रविवार की रात एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। हादसे में 13 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी, 2 लोगों की अस्पताल में इलाज के दौरान जान चली गई। वहीं 15-20 लोग इस हादसे में घायल हो गए। दरअसल, महाराष्ट्र के धुले जिले में स्टेट ट्रांसपोर्ट की बस हादसे का शिकार हो गई। बताया जा रहा है कि बस धुले से औरंगाबाद की तरफ जा रही थी और कंटेनर विपरीत दिशा से आ रहा था। पुलिस ने मृतकों के शव पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिए हैं, जबकि घायलों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। यह हादसा शहादा-डोंडाइचा रोड पर निमगुल गांव के पास रविवार देर रात हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रोडवेज की बस तेज रफ्तार से औरंगाबाद की तरफ जा रही थी। वहीं कंटेनर विपरीत दिशा में धुले की तरफ आ रहा था। अचानक बस और कंटेनर आमने-सामने आ गए।
बस के उड़े परखच्चे, मची चीख पुकार
टक्कर इतनी तेज थी कि बस के परखच्चे उड़ गए। सो रहे यात्रियों में हड़कंप मच गया। कई यात्रियों को कुछ समझ नहीं आया। चीख-पुकार दूर-दूर तक फैल गई। घटनास्थल पर अफरा-तफरी मच गई। हाइवे से गुजर रहे राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी और राहत कार्य में हाथ बंटाया।
कंटेनर और बस के ड्राइवरों की भी मौत
बताया जा रहा है कि इस हादसे में कंटेनर और बस दोनों के ही ड्राइवरों की मौके पर मौत हो गई। इसके अलावा मरने वालों में अन्य यात्री शामिल हैं। कई यात्री बस में दब गए तो उन्हें निकालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। अंधेरा होने से राहत कार्य में दिक्कत भी आई।
कई की हालत गंभीर
पुलिस ने बताया कि घायलों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। कई की हालत गंभीर बताई जा रही है, जिन्हें हायर सेंटर में इलाज के लिए भेजा गया है। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतकों की पहचान की जा रही है।
पिछले माह भी हुआ था हादसा
इससे पहले पिछले महीने महाराष्ट्र के पुणे-बेंगलुरु हाईवे पर एक कार एक्सीडेंट का शिकार हो गई थी। काशिल गांव के पास हुए इस सड़क हादसे में सात लोगों की मौत हो गई थी। यह हादसा उस समय हुआ था, जब ड्राइवर ने अपना संतुलन खो दिया था और कार पेड़ से टकरा गई थी। इससे पहले पिछले सप्ताह पालघर जिले में जंबुलपाडा गांव के पास एक भीषण हादसा हुआ था। राज्य परिवहन निगम की एक बस के पिवली-वाडा में एक डिवाइडर से टकराने और उसके बाद झाडिय़ों में घुस जाने से कम से कम 50 यात्री घायल हो गए थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *