सिंधिया और कमलनाथ ने दिन और रात का भोजन किया साथ, कहा सब मिल कर काम करें

भोपाल, गुरुवार को राजधानी भोपाल में मध्यप्रदेश कांग्रेस की सियासत सरगर्म रही, पार्टी दो दिग्गज चेहरों सिंधिया और कमलनाथ काफी वक्त साथ में बिताया और लंच व डिनर भी साथ में ही किया। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने सिंधिया को लंच पर आमंत्रित किया था। भोजन के बाद दोनों में अकेले में काफी देर तक चर्चा भी हुई। सिंधिया का यह दौरा ऐसे समय में हुआ है, जब कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष और राष्ट्रीय अध्यक्ष के पदों पर मशक्कत चल रही है। सिंधिया गुरुवार को सुबह भोपाल आकर सबसे पहले 11 बजे विधानसभा पहुंचे। इसके बाद मुख्यमंत्री के साथ भोजन के बाद शाम को वीआईपी गेस्ट हाउस में पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात करने पहुंचे। इसके बाद वे स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के घर डिनर में शामिल हुए। रात के भोजन में सिंधिया के साथ कमल नाथ और सरकार के मंत्री और अन्य वरिष्ठ नेता भी शामिल हुए।

पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने विधानसभा आकर अध्यक्ष एनपी प्रजापति से उनके कक्ष में भेंट की.

इसके पहले प्रेस वार्ता में सिंधिया ने कहा जिस मध्य प्रदेश को बेहाल करके छोड़ा गया उस मध्य प्रदेश की इमारत खड़ी करने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल गांधी के इस्तीफे पर सिंधिया ने कहा कांग्रेस के लिए बड़ा गंभीर समय है। हमने बहुत कोशिश की कि हम उन्हें मना पाए, लेकिन वो कोई फैसला लेते है तो अडिग रहते है। अब समय आ गया अब ऐसे शख्स को मौका दिया जाना चाहिए जो कांग्रेस में नई जान फूंक सके।
सब मिलकर काम करो
मप्र में अफसरों और मंत्री के बीच खींचतान पर सिंधिया ने कहा कि ब्यूरोक्रेसी एक विचारधारा हैं, मंत्री और ब्यूरोकेसी को साथ मिलकर चलना चाहिए। न मंत्री ऊपर न ब्यूरोक्रेसी ऊपर और न ही मुख्यमंत्री ऊपर, सबको टीम भावना से काम करना ही होगा तभी सरकार सफल होगी।
ऊर्जावान अध्यक्ष की जरूरत
सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस को ऐसे अध्यक्ष की जरूरत है जो ऊर्जावान हो और सबको खासतौर से देश के पार्टी कार्यकर्ता को साथ लेकर चले। नए अध्यक्ष को राहुल गांधी के बताए मार्ग पर भी चलना चाहिए।
होर्डिंगमय शहर, भव्य स्वागत
सिंधिया नियमित विमान सेवा से भोपाल पहुंचे। एयरपोर्ट पर उनका स्वागत करने सैकड़ों की संख्या में समर्थन पहुंचे और एक रैली के तौर पर उन्हें विधानसभा लाया गया। इस दौरान सिंधिया समर्थकों ने पूरे शहर में सिंधिया की होर्डिंग्स व पोस्टर लगाये थे।। शुक्रवार सुबह सुबह नियमित विमान सेवा से वे दिल्ली जा सकते हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *