बजट पर पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा ये क्या कॉमिडी चल रही है ?

नई दिल्ली, कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने मोदी सरकार में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के बजट भाषण की तीखी आलोचना की है। उन्होंने निर्मला के इस बजट को अबतक के सबसे अस्पष्ट बजट भाषणों में से एक बताया है। इसके साथ ही उन्होंने बिना पैनकार्ड के सिर्फ आधार कार्ड से आईटीआर फाइल करने की घोषणा को कॉमिडी करार दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार कभी कुछ करती है, कभी कुछ जैसे कोई कॉमिडी चल रहा हो।
‘क्या कॉमिडी चल रही है?’
आम बजट में बिना पैनकार्ड के सिर्फ आधार कार्ड के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की सुविधा पर चिदंबरम ने तीखा तंज किया। उन्होंने पत्रकारों से कहा, आपको याद होगा कि जब आधार को आईटीआर फाइलिंग के लिए अनिवार्य किया गया तब सवाल उठा कि जब पैनकार्ड है तो आधार की जरूरत क्या है। अब आप कह रहे हैं कि बिना पैन के आधार से ही आईटीआर फाइल कर सकते हैं। यह क्या कॉमिडी है? मैं नहीं समझ पा रहा हूं कि पैन और आधार को तब लिंक करने की क्या जरूरत थी।’
बेहद अस्पष्ट बजट भाषण, संसद में आंकड़ें न रखना अनैतिक: चिदंबरम
चिदंबरम ने कहा कि बजट भाषण में यह तक नहीं बताया गया कि सरकार का कुल खर्च कितना है, कितना राजस्व मिला है। उन्होंने कहा, बड़ी तादाद में लोग बजट स्पीच सुनते हैं, उन्हें बजट डॉक्युमेंट नहीं मिलता। डॉक्युमेंट सांसदों को मिलते हैं लेकिन आप नहीं बताते कि सरकार का कुल खर्च कितना है, कितना राजस्व अर्जित हुआ…। आप लोगों को अंधेरे में क्यों रख रहे हैं। इन आंकड़ों का संसद में खुलासा नहीं करना अनैतिक है।… मुझे यह तक नहीं पता है कि रक्षाक्षेत्र को कितना आवंटित हुआ है। वैसे, मैं शाम तक या कल सुबह तक यह जान जाऊंगा। लेकिन मैं समझता हूं कि यह भारत के लोगों के साथ अन्याय है कि उन्हें आप न बताए कि डिफेंस को कितना दिया गया है, मनरेगा को कितना दिया गया है।’

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *