नकुल और कमलनाथ को छिंदवाड़ा में कड़े संघर्ष के बाद मिली जीत

छिंदवाड़ा,1977 के आपातकाल के बाद यह दूसरा मौका है, जब छिंदवाड़ा ने कांग्रेस की लाज बचाई है। मोदी मैजिक में मध्यप्रदेश की 29 सीटों में केवल छिंदवाड़ा ही एक मात्र ऐसी सीट है, जहां कांग्रेस का परचम लहराया है। यहां से कमलनाथ और उनके पुत्र नकुलनाथ को विजय मिली है, कमलनाथ छिंदवाड़ा से विधायक और नकुलनाथ छिंदवाड़ा के सांसद निर्वाचित हो चुके हैं। लेकिन इस बार बड़ी बात यह है कि उनकी भाजपा के आंकड़े चौंकाने वाले है। काफी कम मतो से दोनो की जीत हुई है। नकुलनाथ अपने प्रतिद्वंदी भाजपा के नत्थन शाह से मात्र 38500 वोट से ही चुनाव जीत पाए है। जबकि कमलनाथ के लिए यह आंकड़ा हमेशा एक लाख के पार रहा है। पिछला लोकसभा चुनाव ही कमलनाथ ने 1 लाख 42 हजार मतो से जीता था। उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी चौधरी चंद्रभान सिंह को हराया था। इतना ही नहीं कमलनाथ संसदीय सीट के सातो विधानसभा छिंदवाड़ा, चौरई, अमरवाड़ा, परसिया, जुन्नारदेव, सौंसर, पांढुर्णा से लीड हासिल की थी कमलनाथ छिंदवाड़ा से 9 बार सांसद चुने गए है और हर बार उन्हें जिले के सातो विधानसभा क्षेत्र से लीड हासिल हुई है। यह पहला मौका है, जब लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को 4 सीटो से लीड नहीं मिली है। नकुलनाथ चार विधानसभा क्षेत्र परासिया, सौंसर, चौरई और पांढुर्णा से लीड नहीं ले पाए। उन्हें केवल अमरवाड़ा, छिंदवाड़ा और जुन्नारदेव से ही बढ़त मिली है। परिणाम ऐसे है कि जिले के कांग्रेसी खुद सख्ते में आ गए हैं। वह जीत की खुशी तक नहीं मना पा रहे हैं।
नत्थन शाह और विवेक साहू बंटी ने दी कड़ी चुनौती
चुनाव के दौरान भाजपा के लोकसभा उम्मीदवार नत्थन शाह कवरेती और छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने विवेक साहू बंटी को कमजोर प्रत्याशी माना जा रहा था। लेकिन दोनो ने कड़ी चुनौती दी है। चुनाव परिणाम ने यह साबित कर दिया है। लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री के पुत्र नकुलनाथ को अमरवाड़ा से 22 हजार 256, छिंदवाड़ा से 15 हजार 71 और जुन्नारदेव से 12 हजार 68 मतो की ही लीड हासिल हुई। जबकि भाजपा को परासिया से 4743, सौंसर से 4645, चौरई से 1497 और पांढुर्णा से 848 मतो की बढ़त मिली है। इसी तरह छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री कमलनाथ विवेक साहू बंटी से महज 21400 मतो से चुनाव जीत पाए है। मुख्यमंत्री कमलनाथ को छिंदवाड़ा विधानसभा में 1 लाख 12 हजार 220 वोट मिले है। वहीं बंटी साहू को 87 हजार 711 मत हासिल हुए है। इसी तरह लोकसभा चुनाव में नकुलनाथ को 5 लाख 80 हजार 8 सौ और भाजपा के नत्थन शाह कवरेती को 5 लाख 42 हजार 309 मत 22 राउंड में मिले है।
लोकसभा में 12 लाख 38 हजार 344 वोट
लोकसभा चुनाव में ८१.८८ प्रतिशत वोङ्क्षटग हुई थी। जिसमें १२ लाख ३८ हजार ४४४ मतदाताओं ने वोट डाले थे। इसमें ६ लाख ३६ हजार ४७२ पुरूषों, ६ लाख एक हजार ९६१ महिलाओं और ११ थर्ड जेंडर मतदाता है। जिनका प्रतिशत क्रमश: ८२.४८, ८१.२६ और ६१.११ है। विधानसभा उपचुनाव में २ लाख ७ हजार ३९७ वोट छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव में ७८.९३ वोङ्क्षटग हुई थी जिसमें २ लाख ७ हजार ३९७ मतदाताओं ने जनादेश दिया था। इसमें एक लाख ६ हजार ५३६ पुरूषों, एक लाख ८५५ महिलाओं और ६ थर्ड जेंडर है। प्रतिशत क्रमश: ८०.०६, ७७.७७ और १०० है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *