नीतीश की भाजपा को नसीहत, साध्वी प्रज्ञा को दिखाएं बाहर का रास्ता

पटना,भोपाल से प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा की ओर से महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताए जाने पर घिरी भाजपा को अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी नसीहत दी है। भाजपा के साथ गठबंधन में शामिल जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा साध्वी प्रज्ञा के ऐसे बयान के लिए उन्हें पार्टी से बाहर करने पर विचार करना चाहिए।
पटना में मतदान करने के बाद बूथ से बाहर निकलते समय नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बात करते हुए यह बात कही। नीतीश कुमार ने कहा महात्मा गांधी को लेकर इस तरह के बयानों को कतई स्वीकार नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि यह भाजपा का अंदरुनी मामला है, लेकिन इस तरह के बयान के लिए उन्हें पार्टी से निकालने पर विचार करना चाहिए।
इसके साथ ही उन्होंने लोकसभा चुनाव की अवधि को लेकर कहा कि इतने लंबे समय तक चुनाव नहीं होने चाहिए। उन्होंने कहा लंबे चरणों में चुनाव नहीं होने चाहिए। उन्होंने कहा कि आखिर 45 से 50 दिन तक चुनाव क्यों होने चाहिए? चुनाव के शांतिपूर्ण ढंग से निपटने को लेकर कहा कि अब तो शांति का ही दौर है, अशांति का दौर तो हमारे आने से पहले 15 साल तक था। नीतीश कुमार ने कहा मतदान के चरणों के बीच इतना लंबा गैप नहीं होना चाहिए। मैं सभी दलों के नेताओं को पत्र लिखकर इस बात पर आम सहमति बनाने का प्रयास करूंगा कि चुनाव कम समय में होने चाहिए।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *