कोलकाता की चेन्नई के हाथों घरेलू मैदान पर 5 विकेट से पराजय

कोलकाता,अपने घरेलू मैदान ईडन गार्डन पर भी कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल के एक मैच में चेन्नई का विजय रथ रोकने में नाकाम रही। चेन्नई ने कोलकाता को 5 विकेट से पराजित कर दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता ने 8 विकेट के नुकसान पर निर्धारित 20 ओवर में 161 रन बनाए जवाब में चेन्नई ने 5 विकेट खोकर 2 गेंद शेष रहते हुए 162 रन बनाकर शानदार जीत हासिल की और आईपीएल के इस सीजन में शीर्ष क्रम पर अपनी उपस्थिति बरकरार रखी।
चेन्नई की जीत के शिल्पकार रहे गेंदबाज इमरान ताहिर और सुरेश रैना। एक तरफ ताहिर ने 4 ओवर में 27 रन देकर चार विकेट लिए और बड़ा स्कोर खड़ा नहीं होने दिया। वहीं सुरेश रैना ने 42 गेंदों में नाबाद रहते हुए 58 रन बनाए। 162 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई की टीम शुरुआत में लड़खड़ाते दिखी जब शेन वॉटसन 7 गेंदों में 6 रन बनाकर हैरी गर्नी के द्वारा पगबाधा आउट कर दिए गए। उस वक्त स्कोर 29 रन था। इसके बाद फाफ डू प्लेसी और सुरेश रैना ने मिलकर छठवें ओवर तक स्कोर 44 रन पर पहुंचाया। इसी ओवर की दूसरी गेंद पर फाफ डू प्लेसी को सुनील नरेन ने बोल्ड मारा। प्लेसी ने 16 गेंदों में 5 चौके के सहायता से 24 रन बनाए। थोड़े अंतराल से ही 2 विकेट गिर जाने से रन गति थोड़ी धीमी हुई। किंतु एक छोर पर सुरेश रैना जमे हुए थे और शानदार शॉट लगा रहे थे। दसवें ओवर में धीमा खेल रहे अंबाती रायडू भी पीयूष चावला की गेंद पर रॉबिन उथप्पा द्वारा लपक लिए गए। उन्होंने 11 गेंद में मात्र 5 रन बनाए। केदार जाधव ने आते ही हाथ खोल दिया। उन्होंने 12 गेंदों में 20 रन मारे जिसमें तीन चौके और एक छक्का शामिल था। यादव को पीयूष चावला ने पगबाधा आउट कर दिया। कप्तान धोनी ने एक छक्का लगाया लेकिन वह पिछले मैच की तरह बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहे। नरेन की स्टंप पर आती एक गेंद मिस होकर उनके पैड पर लगी और अंपायर ने एलबीडब्ल्यू का इशारा कर दिया। धोनी 13 गेंदों में 16 रन बना सके जिसमें एक छक्का शामिल था। इसके बाद क्रीज पर आए रविंद्र जडेजा ने टिक कर खेलना शुरू किया और सेट होते ही हाथ खोल दिए। उन्होंने 17 गेंदों में 5 चौके की सहायता से नाबाद 31 रन बनाए और चेन्नई को जीत दिला दी। सुरेश रैना 42 गेंदों में 58 रन बनाकर नाबाद रहे। कोलकाता की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज सुनील नरेन और पीयूष चावला रहे जिन्हें दो-दो विकेट मिले। चेन्नई ने यह मैच 5 विकेट से जीत लिया।
इससे पहले चेन्नई ने टास जीतकर कोलकाता को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। कोलकाता ने शानदार शुरुआत की और क्रिस लिन ने मैदान में चारों तरफ चौकों- छक्कों की बौछार कर दी। उन्होंने सुनील नरेन को बल्लेबाजी का ज्यादा मौका नहीं दिया। पांचवें ओवर में जोखिम उठाते हुए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने स्पिनर मिचेल सैंटनर को गेंद थमा दी। धोनी का निर्णय सही साबित हुआ लॉन्ग ऑन पर लंबा शॉट लगाने के चक्कर में नरेंद्र को 2 रन के स्कोर पर सैंटनर की गेंद पर फाफ डू प्लेसी ने कैच आउट कर दिया। लेकिन उसके बाद 11 ओवर तक नीतीश राणा और क्रिस लिन ने मिलकर स्कोर 79 तक पहुंचाया। इसी ओवर की दूसरी गेंद पर नीतीश राणा ने इमरान ताहिर की गेंद को लंबा शॉट मारने के चक्कर में ऊंचा खेल दिया फाफ डू प्लेसी ने शानदार कैच पकड़ा। राणा 18 गेंदों में 3 चौकों की सहायता से 21 रन ही बना पाए। दो धुरंधर खिलाड़ियों के आउट होने के बाद रन गति धीमी हो गई लेकिन जनता को उम्मीद थी कि रॉबिन उथप्पा और आंद्रे रसैल हमेशा की तरह तूफानी बल्लेबाजी करके कोलकाता को मुसीबत से उबार देंगे। किंतु धोनी का गेम प्लान अलग था 11वें ओवर में ही चौथी गेंद पर इमरान ताहिर ने रॉबिन उथप्पा को फाफ डू प्लेसी के हाथों कैच करा दिया। उथप्पा खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद रसेल और क्रिस लिन ने मिलकर तेजी से रन बटोरने शुरू किया। लेकिन इमरान ताहिर ने एक बार फिर हमला बोलते हुए लिन को शार्दुल ठाकुर के हाथों चेंज करा दिया। लिन ने 51 गेंदों में शानदार 82 रन बनाए जिसमें 7 चौके और 6 छक्के शामिल थे। उनके अलावा बाकी बल्लेबाज कमाल नहीं दिखा सके। लगातार बेहतरीन खेल रहे आंद्रे रसैल को इमरान ताहिर ने सब्सीट्यूट के हाथों कैच कराकर जल्द ही पवेलियन भेज दिया। रसेल ने 4 गेंदों में 10 रन बनाए जिसमें एक चौका, एक छक्का शामिल था। अंतिम ओवरों में शुभमन गिल ने 20 गेंदों में 15 रन का धीमा योगदान दिया उन्हें शार्दुल ठाकुर की गेंद पर जडेजा ने कैच किया। चावला 5 गेंदों में 4 रन बनाकर नाबाद रहे। कुलदीप यादव अंतिम गेंद पर महेंद्र सिंह धोनी द्वारा रन आउट कर दिए गए। चेन्नई के लिए इमरान ताहिर ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए। शार्दुल ठाकुर को दो विकेट मिले।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *