महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी ने गोवा में समर्थन वापसी की धमकी दी

पणजी,गोवा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी ने समर्थन वापसी की धमकी दी है। पार्टी ने कहा कि उनके राजनीतिक प्रतिद्वंदी अगर’साजिश’ रचते हैं तो वे कांग्रेस के साथ गठबंधन करके एक नई सरकार बनाने के लिए मजबूर हो सकते हैं।
40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में महाराष्‍ट्रवादी पार्टी के तीन विधायक हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता और मारकेम सीट से विधायक सुदीन धावलीकर को प्रमोद सावंत की सरकार में उप मुख्यमंत्री बनाया गया है। बीजेपी ने अपने सहयोगियों को मनाने के बाद अभी पिछले हफ्ते ही राज्य में सरकार बनाई है।
एमजीपी अध्यक्ष दीपक धवलीकर का कहना है कि उनकी पार्टी के एक नेता को राज्यपाल और स्पीकर को पत्र लिखने पर मजबूर किया गया। धवलीकर ने कहा कि एमजीपी की केंद्रीय समिति की बैठक बुधवार को होगी, इसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि पार्टी के कदम से राज्य सरकार का भविष्य तय हो सकता है। कांग्रेस का हाथ थामने का विकल्प उनके पास है या नहीं? इस सवाल के जवाब में उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया।
दीपक धवलीकर ने कहा, ‘एक बड़ी साजिश के तहत हमारे वरिष्ठ पदाधिकारी और महासचिव लवू ममलतदार से राज्यपाल और विधानसभा अध्यक्ष को एक पत्र जारी कराया गया। पत्र के माध्यम से यह कहा गया कि वे पार्टी के विधायी मामलों का पूरा नियंत्रण अपने हाथ में ले रहे हैं।’
धवलीकर ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य की सबसे पुरानी क्षेत्रीय पार्टी है, कुछ लोग इसके आगे बढ़ने में अवरोध उत्पन्न कर रहे हैं। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी ममलतदार ने पिछले हफ्ते पत्र लिखकर कहा था कि पार्टी के फैसलों को उनतक पहुंचाया जाए। वे एमजीपी के एकमात्र पदाधिकारी हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *