उज्जैन में अब आरक्षक भी होंगे प्रभारी पहली बार सूबे में हुई इस तरह की पहल

उज्जैन,जिले के पुलिस थानों पर अब एसपी स‎चिन अतुलकर द्वारा शिफ्ट में ड्यूटी तय कर दी गई है। इस व्यवस्था को तीन भागों में बांटा गया है। किसी थाने में 50 पुलिसकर्मियों का स्टाफ है तो उनमें 16 पुलिसकर्मी एक शिफ्ट में आठ घंटे रहेंगे। चार घंटे थाने का काम निपटाएंगे और चार घंटे फील्ड में रहेंगे सभी पुलिसकर्मियों से 100 प्रतिशत काम लेने के लिए यह नई शुरुआत उज्जैन नानाखेड़ा थाने से की गई है। एसपी सचिन अतुलकर ने ड्यूटी से गश्त तक का सिस्टम बनाया नानाखेड़ा थाने में छह घंटे तक शिफ्ट व्यवस्था के लिए एक-एक पुलिसकर्मी की जिम्मेदारी तय की गई। थाने के 30 कांस्टेबल,15 हेड कांस्टेबल 3 एसआई, 3 एएसआई कैसे काम करेंगे यह समझाया गया। उनसे यह भी पूछा कि इसमें कोई परेशानी हो तो बताओं आठ घंटे की ड्यूटी में चार घंटे पुलिसकर्मी फील्ड में रहने अपने एरिया में प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करेंगे गुंडों का पता लगाएंगे। इसके बाद बा‎कि के चार घंटे थाने में बैठकर पेडिंग अपराधों का निराकरण कर सकेंगे केस डायरी पर बेहतर तरीके से काम होगा। नई व्यवस्था में एक शिफ्ट में आठ घंटे ड्यूटी करेंगे प्रत्येक पुलिसकर्मी की जिम्मेदारी तय करना जरुरी है इसीलिए अब नई व्यवस्था के तहत पुलिसकर्मी एक शिफ्ट में आठ घंटे ड्यूटी करेंगे। प्रत्येक थाने के पास आठ घंटे 15 से 18 पुलिसकर्मी रहेंगे रात में गश्त में ही इतने ही पुलिसकर्मी रहने से व्यवस्था में और मजबूती आएगी। यह व्यवस्था 15 दिन के भीतर शहर के सभी थानों में लागू की जाएगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *