…और हमारे नेता को जीवंत रखने के लिए धन्यवाद, राहुल ने रजिस्टर में लिखा

अहमदाबाद, गुजरात में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शुरू हो चुकी है, इसमें हिस्सा लेने पहुंचे गांधी परिवार साबरमती आश्रम पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। गांधी आश्रम की विजिटर बुक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लिखा कि हमारे नेता को जीवंत रखने के लिए धन्यवाद।
गुजरात में 58 साल बाद कांग्रेस की कार्य समिति की बैठक का आयोजन किया गया। इसी सिलसिले में कल रात्रि से कांग्रेस नेताओं का अहमदाबाद में आगमन शुरू हो गया था। आज सुबह युपीए की चेरपरसन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी अहमदाबाद आ पहुंचे। गांधी परिवार के साथ कांग्रेस के अन्य राष्ट्रीय नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, सचिन पायलट अहमद पटेल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत समेत दिग्गज नेता अहमदाबाद आ पहुंचे।
आज सुबह गांधी परिवार अन्य कांग्रेसी के दिग्गज नेताओं ने गांधीआश्रम में पहुंचकर महात्मा गांधीजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित की। गांधी आश्रम में आयोजित सर्वधर्म प्रार्थनासभा में सोनिया, राहुल, प्रियंका और पूर्व पीएम मनमोहनसिंहने गांधीजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए श्रद्धांजलि दी। इसके बाद गांधीआश्रम में आयोजित सर्वधर्म प्रार्थनासभा में हिस्सा लिया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गांधीआश्रम का दौरा कर विजिटर बुक में लिखा कि गांधी आश्रम बहुत ही प्रेरणादायी स्थल है। हमारे नेता को जीवंत रखने के लिए धन्यवाद। सोनिया गांधीने भी महात्मा गांधीजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए आश्रम की मुलाकात की और विजिटर बुक में महात्मा गांधी की प्रेरणा के विषय में नोट लिखी।

प्रियंका ने कार्यकर्तों के बीच लिया स्थान
गुजरात में 58 साल कांग्रेस की कार्य समिति की बैठक का आयोजन किया गया। इसी सिलसिले में कल रात्रि से कांग्रेस नेताओं का अहमदाबाद में आगमन शुरू हो गया था। आज सुबह कांग्रेस की चेरपरसन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी अहमदाबाद आ पहुंचे। गांधी परिवार के साथ कांग्रेस के अन्य राष्ट्रीय नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, सचिन पायलट अहमद, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत समेत दिग्गज नेता अहमदाबाद आ पहुंचे।
आज सुबह गांधी परिवार अन्य कांग्रेसी के दिग्गज नेताओं ने गांधीआश्रम में पहुंचकर महात्मा गांधीजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित की। गांधी आश्रम में आयोजित सर्वधर्म प्रार्थनासभा में सोनिया, राहुल, प्रियंका और पूर्व पीएम मनमोहनसिंह के लिए बैठने की अलग से व्यवस्था की गई थी। प्रार्थना सभा के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा सोनिया, राहुल और पूर्व पीएम मनमोहनसिंह के साथ नहीं बैठे। प्रियंका अन्य कांग्रेसी नेता अल्पेश ठाकोर के साथ बैठे हुए नजर आए। वहीं दूसरी ओर, राहुल, सोनिया और पूर्व पीएम मनमोहन के साथ एक बैठक व्यवस्था खाली देखने को मिली जो कि माना जा रहा है कि वहां प्रियंका बैठने वाले थे। परंतु प्रियंका ने वहां स्थान लिया। प्रियंकाने वहां स्थान क्यों न लिया इस बारे में चर्चा का दौर शुरू हो गया। राजनीतिक गलियारें चर्चा चल रही है कि प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में प्रवेश से राहुल गांधी की अपेक्षा लोगों में प्रियंका को राजनीति में आने को लेकर काफी उत्सुकता है। प्रियंका के सामने राहुल गांधी कमतर दिखेंगे यही डर की वजह से प्रियंका ने अलग से स्थान लिया हो ऐसा माना जा रहा है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *