‘हमें पता हैं कि नीरव मोदी लंदन में हैं, पाकिस्तान आतंक पर लगातार झूठ फैला रहा

नई दिल्ली,भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान आतंक पर लगातार झूठ फैलाने का काम कर रहा है और अब वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेनकाब हो गया है। कुमार ने कहा, अगर पाकिस्तान ‘नया पाकिस्तान’ होने का दावा करता है तो उसे आतंकी संगठनों के खिलाफ ‘नया एक्शन’ भी लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान लगातार झूठ फैलाने का काम कर रहा है, जबकि उसे भारत और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की बात मानकर आतंकी संगठनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उसने हमारे एक नहीं बल्कि दो फाइटर जेट मार गिराए हैं। पाकिस्तान का दावा है कि उसके पास इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी है। यदि पाकिस्तान के पास ऐसे सबूत हैं तो वह उन्हें मीडिया के सामने क्यों नहीं लाता है? रवीश कुमार ने कहा कि हमारे पास इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि उन्होंने भारत के खिलाफ सैन्य कार्रवाई में एफ-16 का इस्तेमाल किया है। कुमार ने बताया कि हमने अमेरिका से कहा है कि वह इस बात की जांच करे कि भारत के खिलाफ एफ-16 का इस्तेमाल कर पाकिस्तान ने नियम और शर्तों का उल्लंघन तो नहीं किया है।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री जिस तरह जैश-ए-मोहम्मद को लेकर बात करते हैं, इससे साफ पता चलता है कि पाकिस्तान आतंक के खिलाफ कैसा रुख रखता है। रवीश कुमार ने कहा कि हम आतंकवाद के खिलाफ लगातार अभियान जारी रखेंगे, हमारी सेना सतर्क रहेगी। यदि पाकिस्तान ‘नया पाकिस्तान’ होने का दावा करता है तो उसे आतंक के खिलाफ ‘नया एक्शन’ भी लेना चाहिए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान का झूठ कई बार बेनकाब हो चुका है। पाकिस्तान की आर्मी के प्रवक्ता ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि उनके देश में जैश की मौजूदगी नहीं है, जबकि उनके विदेश मंत्री ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने जैश की टॉप लीडरशिप से पुलवामा हमले में शामिल होने के बारे में जानकारी मांगी है। जैश ने इसमें हाथ होने से इनकार किया है। रवीश कुमार ने कहा कि क्या पाकिस्तान के विदेश मंत्री जैश-ए-मोहम्मद के प्रवक्ता हो गए हैं।
पाकिस्तान के साथ टकराव के मुद्दे पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में रवीश कुमार में कहा था कि भारत की तरफ से डी-ऐस्केलेश का सवाल ही नहीं है, क्योंकि भारत ने कभी ऐस्केलेट ही नहीं किया था। हमारी कार्रवाई पाकिस्तान के खिलाफ नहीं, बल्कि आतंक के खिलाफ थी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत और अंतरराष्ट्रीय बिरादरी की चिंताओं को दूर करने के लिए कोई काम नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सभी सदस्यों को जैश-ए-मोहम्मद के ट्रेनिंग कैंप और मसूद अजहर के पाकिस्तान में होने के बारे में जानकरी है। हम संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों से अपील करता हूं कि मसूद अजहर को आतंकी सूची में शामिल किया जाए।
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया ने नीरव मोदी पर सवाल किया किया गया जिसके जवाब में रवीश कुमार ने कहा कि ‘हमें पता हैं कि नीरव मोदी लंदन में हैं। हमने प्रत्यर्पण की आर्जी दी हैं लेकिन अभी मंजूरी नहीं मिली हैं। रवीश कुमार ने आगे कहा कि नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। हम ब्रिटेन में उनकी उपस्थिति से अवगत हैं। यह (प्रत्यर्पण अनुरोध) उनके (यूके सरकार) विचार के तहत है।
मालूम हो कि पीएनबी घोटाले में आरोपी नीरव मोदी लंदन में घूमता नजर आया। पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपये के धोखाखड़ी मामले में वांछित भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी पर प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक पीएनबी घोटाले का आरोपी नीरव मोदी लंदन के वेस्ट एंड इलाके में रह रहा है और डायमंड बिजनेस चला रहा है। वह वीडियो में लगातार नो कमेंट कहता हुआ नजर आ रहा है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *