जबलपुर लोकायुक्त की कार्यवाही, उपयंत्री 54 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

बालाघाट, जिला मुख्यालय के वैनगंगा डिवीजन के कार्यपालन यंत्री के कार्यालय में पदस्थ उपयंत्री राजेन्द्र मेश्राम को मंगलवार को लोकायुक्त पुलिस ने कार्यालय में ठेकेदार से नगद 54 हजार रूपये की घूस लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। उपयंत्री से लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत के रूप में ठेकेदार द्वार दिये गये 2-2 हजार रूपये के 27 नोट बरामद किये। कार्यवाही के बाद लोकायुक्त पुलिस ने उपयंत्री राजेन्द्र मेश्राम के घर के घर पर भी छापा मारा और दस्तावेजों सहित चल और अचल संपत्ति की जांच की। इस कार्रवाई में डीएसपी दिलीप झरवड़े की नेतृत्व में निरीक्षक स्वप्नील दास, कमलसिंह उईके, आरक्षक जुबेद खान, अतुल श्रीवास्तव और राकेश विश्वकर्मा शामिल रहे।
शिकायतकर्ता शेख जलाल खान निवासी कायदी ने बताया कि वैनगंगा संभाग अंतर्गत लालबर्रा के चंद्रपुरी में चेन क्रमांक 1115 में 29 लाख रूपये की लागत से पुलिया का निर्माण किया गया था। जिसका निर्माण पूरा हो गया है। उस निर्माण की अंतिम बिल लगभग 5.50 लाख के भुगतान के कराने के लिए उपयंत्री ने 54 हजार रूपये की मांग की थी। ठेकेदार काम पूरा होन के 8 माह बाद भी भुगतान नहीं होने से परेशान था। अंतिम बिल पास कराने के ऐवज में उप यंत्री द्वारा रिश्वत मांगने से परेशान होकर ठेकेदार ने इसकी शिकायत जबलपुर लोकायुक्त पुलिस से की थी। शिकायतकर्ता की शिकायत को सही पाने के बाद लोकायुक्त पुलिस ने करर्यवाही की।
-उपयंत्री के घर पर खंगाले दस्तावेज
वैनगंगा डिवीजन कार्यपालन यंत्री कार्यालय में रंगेहाथ रिश्वत लेते पकड़ाये विभागीय उपयंत्री राजेन्द्र मेश्राम से रिश्वत की रकम बरामद करने के बाद लोकायुक्त पुलिस उपयंत्री राजेन्द्र मेश्राम को लेकर घर पहुंची और वहां भी लोकायुक्त पुलिस ने कई दस्तावेज खंगाले। इस मामले में लोकायुक्त पुलिस डीएसपी दिलीप झरवड़े ने बताया कि शिकायतकर्ता की शिकायत में लोकायुक्त पुलिस द्वारा कार्यवाही की गई है। जिसमें उपयंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है।
इनका कहना है
उपयंत्री के द्वारा विलेज रोड के निर्माण के लिए ठेकेदार से 54 हजार रूपये की मांग की थी, ठेकेदार की शिकायत पर उपयंत्री राकेश मेश्राम को रिश्वत लेते हुए आज रंगेहाथ पकड़ा गया है। उपयंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।
दिलीप झरवड़े, डीएसपी, लोकायुक्त पुलिस जबलपुर

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *