पीएम के चेहरे पर घबराहट, मोदी चेहरा हैं संघ नागपुर से देश को चलाना चाहता हैं

नई दिल्ली, लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर कांग्रेस ने अपनी रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में गुरुवार को जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में कांग्रेस का अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला किया। राहुल ने कहा कि आज नरेंद्र मोदी के चेहरे में घबराहट देखने को मिलती है, उनके चेहरे में डर देखने को मिलता है। उन्होंने कहा कि मोदी जी की पता लग गया है कि हिंदुस्तान को बांटने से, नफरत फैलाने से राज नहीं किया जा सकता है। प्रधानमंत्री सिर्फ देश को जोड़ने का काम करेगा, अगर ऐसा नहीं होगा तो प्रधानमंत्री हटा दिया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पहले कहा जाता था कि मोदी की छाती 56 इंच की है और वह 15 साल तक राज करने वाले है। लेकिन आज पीएम मोदी की प्रतिष्ठा की धज्जियां उड़ चुकी हैं।
राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सच्चाई कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने देश के सामने रखी है। 2019 में कांग्रेस पार्टी नरेंद्र मोदी, बीजेपी और संघ को हराकर रहेगी। उन्होंने कहा कि देश के चौकीदार आज मुझसे गुस्सा हैं, वो कहते हैं कि आपने हमें बदनाम कर दिया। राहुल ने कहा कि हम सिर्फ एक चौकीदार की बात करते हैं जो चोर है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि लड़ाई दो विचारधारा के बीच में है, एक विचारधारा कहती है कि ये देश सभी का है और दूसरी कहती है कि ये देश सिर्फ एक समुदाय का है। उन्होंने कहा कि देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना आजाद थे, स्पेस प्रोग्राम की नींव विक्रम साराभाई ने रखी थी जो जैन समुदाय से थे। उन्होंने कहा कि अगर आर्थिक ग्रोथ की बात करें तो मनमोहन सिंह की बात करनी ही पड़ेगी। राहुल बोले कि अमित शाह कहते हैं कि ये देश सोने की चिड़िया है यानी उनके लिए देश एक प्रोडक्ट है। इस सोने का फायदा देश के कुछ लोगों को मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि संघ के लोगों ने चुनाव आयोग, सुप्रीम कोर्ट सहित सभी संस्थानों को खत्म करने का है, वो चाहते हैं कि वो देश को नागपुर से चलाना चाहते हैं। इस मौके पर राहुल ने संघ प्रमुख मोहन भागवत पर तंज करते हुए जनता से पूछा… क्या नाम है उनके बॉस का.. मोहन भागवत। राहुल बोले कि मोहन भागवत पूरे देश को पीछे से चलाना चाहते हैं। नरेंद्र मोदी चेहरा, ये रिमोट कंट्रोल से देश को चलाना चाहते हैं।
राहुल ने कहा कि मोदी सरकार के राज में सुप्रीम कोर्ट के जज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहते हैं कि उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा है। ये सोचते हैं कि देश नीचे है और ये ऊपर, लेकिन तीन महीने में ही देश इन्हें सच बता देगा। कांग्रेस अध्यक्ष बोले कि मप्र के सीएम कमलनाथ ने बताया कि वहां पिछली शिवराज सरकार ने एक मंत्रालय बनाकर 800 करोड़ संघ के लोगों को दिए गए। उन्होंने कहा कि देश के अधिकारियों को याद रखना चाहिए कि वह देश के लिए काम कर रहे हैं, ना कि संघ के लिए। राहुल ने इस दौरान गडकरी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने अच्छा भाषण दिया और कहा कि वह सबका काम किया। लेकिन इसके तुरंत बाद राहुल ने कहा कि गडकरी जी की छवि भी इतनी अच्छी नहीं है। आज बीजेपी के मंत्री भी कह रहे हैं कि उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा है। राहुल ने कहा कि 2019 के चुनाव में हम बैकफुट पर नहीं फ्रंटफुट पर खेलने की तैयारी में है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *