हत्या में ड्राइवर की पत्नी भी शामिल, अब डॉक्टर की पत्नी की मौत पर भी हत्या का शक

भोपाल, होशंगाबाद जिले के इटारसी में हुई सनसनीखेज हत्या मामले में पुलिस ने नया खुलासा किया है। पुलिस का कहना है कि नौकर की पत्नी को पता था कि डॉक्टर उसके पति की हत्या कर चुका है। ऐसा अनुमान इसलिए लगाया गया क्योंकि रविवार रात से ड्राइवर पति घर नहीं पहुंचा था, लेकिन पत्नी ने उससे एक बार भी फोन पर संपर्क नहीं किया। जबकि इसी दौरान आरोपी डॉक्टर सुनील मंत्री से उसने कई बार बात की। मृतक ड्राइवर वीरू की पत्नी को पुलिस जब घटनास्थल पर ले गई तो उसके चेहरे पर शिकन तक नहीं थी। इसके बाद पुलिस को शक गहराया। रातभर पूछताछ के बाद महिला ने हत्या के मामले में शामिल होना स्वीकार कर लिया।
गौरतलब है कि इटारसी में पदस्थ डॉक्टर सुनील मंत्री ने अपने ड्राइवर को पहले बेहोशी का इंजेक्शन दिया फिर गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। डॉक्टर की हैवानियत यहीं नहीं रुकी। उसने शव के 500 टुकड़े किये और एसिड से गला रहा था, इसी दौरान पुलिस ने उसे पकड़ लिया।
डॉक्टर की पत्नी की मौत पर भी संदेह
दो साल पहले डॉक्टर की पत्नी की मौत हो गई थी। वह ब्यूटी पॉर्लर चलाती थी। मौत के बाद से ड्राइवर की पत्नी के हवाले ही यह पॉर्लर था।
पत्नी की मौत पर अब पुलिस ने पूछताछ की तो डॉक्टर ने बताया कि दवाओं की अधिकता की वजह से उसकी मौत हुई थी। जबकि दो साल पहले डॉक्टर ने मौत की वजह इंजेक्शन का रियेक्शन बताया था।
पुलिस को ये भी पता चला है कि डॉक्टर की पत्नी को कोई गंभीर बीमारी नहीं थी। ऐसे में पुलिस को यह शक गहरा गया है कि कहीं मृतक ड्राइवर की पत्नी से अवैध संबंध बनाने के लिए तो पत्नी की हत्या की होगी।
भोपाल में होगी जांच
शव के टुकड़ों का पोस्टमॉर्टम भोपाल स्थित मेडिको लीगल के विशेषज्ञों द्वारा हमीदिया अस्पताल में किया जाएगा। इसके लिए शव के टुकड़े होशंगाबाद से भोपाल भेजे गए हैं। बताया जा रहा है कि शव के टुकड़ों से अभी भी जलने जैसी गंध आ रही है। होशंगाबाद सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों का कहना है कि शव के टुकड़ों से अभी भी एसिड का असर खत्म नहीं हुआ है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *