माफिया डान रवि पुजारी बिल्डरों, होटल मालिकों और बालीवुड हस्तियों के बीच दहशत का पर्याय रहा है

मुंबई,अफ्रीकी देश सेनेगल से 22 फरवरी को गिरफ्तार किए गए माफिया डान रवि पुजारी बिल्डरों, होटल मालिकों और बालीवुड हस्तियों के बीच दहशत का पर्याय बन गया है। रवि पुजारी के खिलाफ मुंबई में 55 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। कर्नाटक और पूरे महाराष्ट्र के केसों को जोड़ा जाए, तो दर्ज मामलों की संख्या 100 से ज्यादा होगी।
डॉन रवि पुजारी की मुंबई में हफ्ते की आखिरी कॉल 14 जनवरी को सुनाई पड़ी थी। उसके बाद 15 जनवरी को एंटी-एक्सटॉर्शन सेल के सीनियर इंस्पेक्टर अजय सावंत और सचिन कदम की टीम ने उसके सबसे खास आदमी विलियम रॉड्रिग्स को गोरेगांव से गिरफ्तार किया। 22 जनवरी को डॉन का एक और साथी आकाश शेट्टी मेंगलुरु में पकड़ा गया। इन दोनों पर तीन दिन पहले मकोका लगा था और उस केस में रवि पुजारी को वॉन्टेड दिखाया गया था।
यह भारत में उसके खिलाफ दर्ज शायद आखिरी केस है। यदि रवि पुजारी को सेनेगल से भारत लाने में भारतीय एजेंसियां कामयाब हुईं, तो भी ऐसा माना जा रहा है कि इस डॉन की पहली कस्टडी शायद कर्नाटक पुलिस को मिले। वहां उसने तीन पूर्व मंत्रियों को हफ्ते के लिए धमकी भरे फोन किए थे।
एसीपी मिलिंद खेतले ने बताया कि जब वह कांदिवली क्राइम ब्रांच में एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा के साथ काम करते थे, तब उन्होंने उसकी पत्नी पद्मा को फर्जी पासपोर्ट केस में गिरफ्तार किया था। पत्नी कुछ दिनों जेल में रही, बाद में जमानत पर बाहर आ गई। तीन महीने बाद वह देश छोड़कर कहीं चली गई। दोनों के तीन बच्चे हैं। दो बेटियां और एक लड़का। उसकी पत्नी पंजाबी है, जो अंधेरी में रहती थी। रवि पुजारी का भी वही इलाका था। दोनों के बीच लव मैरिज हुई थी। अभी यह साफ नहीं हुआ है कि जब रवि पुजारी को भारत लाया जाएगा, तो क्या उसकी पत्नी और बच्चे भी यहां लाए जाएंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *