संदीप हत्याकांड मे रोहित सेठी के दो दर्जन से अधिक बैंक अकांउट सीज

इंदौर,कमोडिटी कारोबारी संदीप तेल हत्याकांड के मास्टरमांइड ओर एसआर मध्यप्रदेश चैनल के डायरेक्टर रोहित सेठी के 30 बैंक खाते पुलिस ने सीज कर दिए हैं। वही पुलिस ने उसके सहयोगी सुशील बजाज को भी पूछताछ के लिए हिरासत मे लिया है। इसके साथ ही पुलिस ने एसआर मप्र के प्रसारण के सारे सेटऑप बॉक्स भी सीज कर दिए हैं। वहीं चित्तौड़गढ़ में फरार शूटरों की तलाश में टीमें अब भी जुटी हुई हैं। आला अफसरो के मुताबिक शुरुआती जांच मे सामने आ रहा हे कि हवाला कारोबार के जरिए भी रोहित को काफी पैसा मिलता था। इसे देखते हुए उसके विभिन्न बैंकों में 30 खातों को सीज कर दिया है। उसे हवाला से रुपए भेजने वाले कुछ करीबियों की जानकारी भी पुलिस जुटा रही हैं, जिन्हें पूछताछ के लिए जल्द बुलाया जा सकता है। वही मास्टरमाइडं के सहयोगी बजाज से पुलिस ने कई घंटे तक लगातार पूछताछ की। सुत्र बताते है कि हत्याकांड में बजाज के शामिल होने के सुराग तो जांच टीम को नहीं मिले है, लेकिन षडयंत्र में उसकी भूमिका की पड़ताल की जा रही है। छानबीन मे यह भी सामने आया है कि रोहित की पत्नी प्रेरणा को भी हत्याकांड की जानकारी थी, ओर पुलिस उससे पूछताछ में कई राज उगलवा चुकी है। सूत्रों के मुताबिक हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में पत्नी की भी अहम भूमिका मानी जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक
कारोबारी संदीप तेल हत्याकांड में पुलिस ने पूछताछ के लिए भूमाफिया चंपू अजमेरा को भी हिरासत मे लिया है। शुक्रवार दोपहर चंपू से तुकोगंज थाने में लंबी पूछताछ गई है। वहीं दूसरी और एसआर चैनल के नेटवर्क को सीज करने को लेकर केबल ऑपरेटर्स ने एसपी अवधेश गोस्वामी से शुक्रवार को मुलाकात की। नेटवर्क सीज होते ही लाखों सेटअप बॉक्स बंद हो गए। जिसके बाद इंदौर केबल एसोसिएशन के लोग ऑर्बिट माल स्थित एसआर मप्र चैनल के दफ्तर पहुंच गए। यहां प्रसारण चालू करने को लेकर ऑपरेटर्स ने जमकर हंगामा किया। इसके बाद थाने पर भी काफी देर तक हंगामा किया। विजय नगर पुलिस मौके पर पहुंची तो केबल ऑपरेटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष बालकृष्ण तिवारी ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि पुलिस प्रशासन ने रात 9.30 बजे केबल का नेटवर्क बंद कर दिया। इससे ग्राहक हम सभी ऑपरेटर्स को परेशान करने लगे हैं, जो सेटअप बॉक्स जांच का हवाला देकर पुलिस प्रशासन ने बंद किए हैं। वे हमारे खरीदे हुए हैं, ऐसे में हमारा केबल का धंधा ठप हो जाएगा। बाद में अधिकारियों ने मामले में जांच के आधार पर का जल्द ही उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *